Home » राज्य » Uttarakhand: BJP MLA Rajkumar Thukral on Sub Inspector Gagandeep Singh rescuing a Muslim man from a mob
 

उत्तराखंड: हिंदू लड़की के साथ कर क्या रहा था मुस्लिम युवक, सिखाएंगे सबक- BJP विधायक

कैच ब्यूरो | Updated on: 28 May 2018, 15:41 IST

उत्तराखंड से दो दिन पहले एक सिख पुलिसकर्मी की जांबाजी का वीडियो वायरल हुआ था. इस वीडियो में सिख पुलिसकर्मी एक मुस्लिम युवक को भीड़ से बचाते दिख रहा है. अब इस वीडियो के जवाब में रुद्रपुर से बीजेपी विधायक ने भीड़ के हमले को जायज ठहराया है. 

बीजेपी विधायक राजकुमार ठकराल ने कहा कि आखिर मुसलमान युवक मंदिर के पास आते ही क्यों हैं? ठकराल ने कहा कि हिन्दूवादी संगठनों की उन लोगों के खिलाफ लड़ाई जारी रहेगी, जो हिन्दू संस्कृति को खत्म करना चाहते हैं.

 

बता दें कि नैनीताल जिले के रामनगर में एक मंदिर के पास हिंदू लड़की के साथ मिले मुस्लिम युवक को आक्रोशित भीड़ पीटने को उतावली थी. उसे बार-बार भगवा संगठन के लोगों द्वारा पीटा जा रहा था. तभी उत्तराखंड के एक जाबांज सिख पुलिसकर्मी ने उस युवक को बचाने के लिए अपनी पूरी ताकत झोंक दी थी.

उत्तराखंड के अपर पुलिस महानिदेशक अशोक कुमार ने बताया कि जब एक मुस्लिम युवक हिंदू लड़की से मिलने रामनगर से करीब 15 किलोमीटर दूर गर्जियादेवी मंदिर गया था. तब कुछ संगठनों को इस बात की भनक लग गई और वे प्रेमी युगल को सबक सिखाने के लिए मंदिर पहुंच गए.

क्षेत्र में हंगामा होने की सूचना मिलने पर उपनिरीक्षक गगनदीप सिंह मौके पर पहुंचे. वहां उन्होंने देखा कि संगठन के लोग उग्र हो गए हैं और युवक-युवती पर हमले की तैयारी कर रहे थे. उन लोगों ने युवक पर हाथापाई भी शुरू कर दी है.

तभी गगनदीप सिंह ने आव देखा न ताव युवक को बचाने के लिए उन लोगों को फटकार लगाने लगे. इसके अलावा वह युवक को अपनी बॉडी से छिपाने की कोशिश करते भी नजर आए. हालांकि, इस दौरान पुलिसकर्मी को भीड़ की धक्का-मुक्की का भी सामना करना पड़ा.

पढ़ें- भारत में तेजी से फैल रहा जानलेवा Nipah वायरस, फलों को खाकर मर रहे लोग

गगनदीप सिंह के इस कदम की सोशल मीडिया पर जमकर तारीफ हो रही है. अपर पुलिस अधीक्षक कुमार ने कहा कि उपनिरीक्षक गगनदीप तुरंत प्रेमी जोड़े की मदद के लिए दौड़े और उन्होंने मुस्लिम युवक को अपने पास खींच लिया. उन्होंने बताया कि बाद में भीड़ तितर-बितर हो गई और युगल को पुलिस थाने लाया गया जहां से उन्हें उनके परिवारों को सौंप दिया गया.

First published: 28 May 2018, 15:33 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी