Home » राज्य » west bangal: police raids at Gorkha Janmukti Morcha office in Darjeeling.
 

गोरखालैंड पर गदर: GJM चीफ बिमल गुरुंग के दफ्तर पर पुलिस का छापा

कैच ब्यूरो | Updated on: 15 June 2017, 15:31 IST

पश्चिम बंगाल के दार्जिलिंग में अलग गोरखालैंड राज्य की मांग को लेकर चल रहे विरोध प्रदर्शन के बीच पुलिस ने गोरखा जनमुक्ति मोर्चा के दफ्तर पर छापा मारा. पुलिस की इस कार्रवाई के दौरान भारी मात्रा में हथियार बरामद हुए हैं. इसके बाद पुलिस ने पटलाभास में जीजेएम का ऑफिस सील कर दिया. 

गोरखा जनमुक्ति मोर्चा के दफ्तर पर छापा

गुरुवार को पुलिस ने गोरखा जनमुक्ति मोर्चा के दफ्तर पर छापा मारा. जिस वक्त पुलिस दफ्तर पर पहुंची वहां ताला लगा हुआ था. पुलिस ने ताला तोड़कर दफ्तर की तलाशी ली, जिसमें भारी मात्रा में हथियार बरामद हुए. इस छापेमारी के बाद दफ्तर को सील कर दिया गया है. 

बुधवार को गुरुंग ने मीडिया से बात करते हुए पर्यटकों को दार्जिलिंग आने से मना किया था. उन्होंने कहा था कि गोरखालैंड को लेकर उनका प्रदर्शन जारी रहेगा.

हथियारों की बरामदगी पर गोरखा जनमुक्ति मोर्चा के बिनय तमांग ने कहा, "हम आदिवासी हैं, हमारी पारंपरिक प्रतियोगिता के लिए रखे गए तीर-कमान को उन्होंने हथियार के तौर पर दिखाया है. इसलिए हम गोरखालैंड की मांग कर रहे हैं. यह हमारी ज़रूरत है. हमारे अधिकारों, हमारी संस्कृति, सभ्यता, परपंरा किसी का भी सम्मान नहीं किया जाता है."

 

गोरखा जनमुक्ति मोर्चा के प्रमुख बिमल गुरुंग के नेतृत्व में अलग गोरखालैंड की मांग को लेकर दार्जिलिंग में प्रदर्शन चल रहा था. प्रदर्शन के हिंसक रूप लेने के बाद दार्जिलिंग में भारी मात्रा में सुरक्षाबल की तैनाती की गई और पुलिस ने प्रदर्शनकारियों के खिलाफ कार्रवाई की.

पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी सहित यहां के लगभग सभी विपक्षी दलों ने भी गोरखा जनमुक्ति मोर्चा की गोरखालैंड राज्य बनाने की मांग को खारिज कर दिया है.

First published: 15 June 2017, 15:30 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी