Home » उत्तर प्रदेश चुनाव » Akhilesh Yadav: Decision on alliance with Congress to be announced soon
 

अखिलेश यादव: पिता पर जीत गर्व का विषय नहीं, कांग्रेस से गठबंधन का एलान जल्द

कैच ब्यूरो | Updated on: 17 January 2017, 12:17 IST

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने समाजवादी पार्टी के विवाद में बड़ी जीत मिलने के बाद पहली बार प्रतिक्रिया दी है. एक समाचार चैनल से बातचीत में अखिलेश ने कांग्रेस के साथ गठबंधन पक्का होने की भी बात कही है. 

अखिलेश यादव ने न्यूज़ चैनल एनडीटीवी से बात करते हुए समाजवादी पार्टी के विवाद का पटाक्षेप होने पर बेहद सधी प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि सपा पर दावे को लेकर पिता पर जीत मेरे लिए गर्व का विषय नहीं है. 

'पार्टी बचाने के लिए उठाया कदम'

साथ ही अखिलेश ने कहा कि कांग्रेस के साथ उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में गठबंधन का एलान जल्द होगा. अखिलेश ने यह भी कहा कि वह अपने पिता से संघर्ष नहीं चाहते थे, लेकिन पार्टी को बचाने के लिए उन्हें यह कदम उठाना पड़ा. 

अखिलेश यादव ने कहा, "पिता के साथ मेरे संबंध कभी नहीं टूट सकते. मेरा कभी उनसे कोई विवाद नहीं था. हकीकत यह है कि प्रत्याशियों की उनकी लिस्ट के 90 फीसदी नाम मेरी लिस्ट में भी हैं."

कांग्रेस से गठबंधन के सवाल पर अखिलेश ने कहा कि थोड़ा सा इंतज़ार कीजिए. अखिलेश ने साथ ही कहा, "अब बड़ी जिम्मेदारी है. अब हमारा सारा ध्यान दोबारा सरकार बनाने पर है."

साइकिल और सपा अखिलेश की

गौरतलब है कि सोमवार को चुनाव आयोग ने समाजवादी पार्टी के विवाद में अखिलेश यादव के पक्ष में फैसला सुनाते हुए उन्हें समाजवादी पार्टी का अध्यक्ष माना. इसके साथ ही साइकिल सिंबल भी अखिलेश के पास बरकरार है. इस फैसले को विधानसभा चुनाव से पहले अखिलेश यादव के लिए बड़ी राहत माना जा रहा है. 

चुनाव आयोग फैसला आने के बाद अखिलेश यादव ने लखनऊ के चार विक्रमादित्य मार्ग स्थित पिता मुलायम सिंह यादव के आवास पर उनसे मुलाकात की. इस दौरान शिवपाल यादव भी थोड़ी देर के लिए मौजूद रहे थे. बताया जा रहा है कि चुनाव आयोग का फैसला आने के बाद मुलायम ने अखिलेश को फोन करके बधाई दी, जिसके बाद अखिलेश उनसे मिलने पहुंचे. 

इस मुलाकात के बाद रात में नौ बजे के करीब अखिलेश ने मुलायम के साथ बातचीत करते हुए अपनी एक तस्वीर ट्विटर पर पोस्ट की. अखिलेश ने तस्वीर के साथ लिखा, "साइकिल चलती जाएगी...आगे बढ़ती जाएगी."

चुनाव आयोग ने अखिलेश यादव को समाजवादी पार्टी का राष्ट्रीय अध्यक्ष माना और साइकिल सिंबल पर भी उनके हक में फैसला हुआ.

कांग्रेस-आरएलडी से गठबंधन तय

इससे पहले सोमवार को चुनाव आयोग का फैसला आने के बाद उत्तर प्रदेश में कांग्रेस के साथ सपा के गठबंधन पर मुहर लगती दिखी. सपा के राष्ट्रीय महासचिव रामगोपाल ने मीडिया से बातचीत में कहा कि उन्हें उम्मीद है कि कांग्रेस के साथ गठबंधन होगा और इस बारे में अंतिम फैसला अखिलेश यादव लेंगे. 

माना जा रहा है कि कांग्रेस को इस गठबंधन में तकरीबन 100 सीटें मिल सकती हैं. इसके अलावा अजित सिंह की राष्ट्रीय लोकदल के साथ भी बातचीत तकरीबन फाइनल है. खबर है कि आरएलडी 20 से ज्यादा सीटें चाहती है. बुधवार को सपा और कांग्रेस के गठबंधन का एलान होने की संभावना है.

उत्तर प्रदेश में विधानसभा की 403 सीटों के लिए सात चरणों में मतदान है. पहला दौर 11 फरवरी, दूसरा दौर 15 फरवरी, तीसरा दौर 19 फरवरी, चौथा दौर 23 फरवरी, पांचवां दौर 27 फरवरी, छठा दौर 4 मार्च जबकि सातवें और अंतिम दौर का मतदान 8 मार्च को होगा. वहीं वोटों की गिनती 11 मार्च को होगी.

First published: 17 January 2017, 12:17 IST
 
अगली कहानी