Home » उत्तर प्रदेश चुनाव » CM Akhilesh Yadav released party's manifesto for UP Polls, will provide Rs. 1,000 pension to 1 crore & a lot promises
 

सीएम अखिलेश ने जारी किया यूपी चुनाव का घोषणा पत्र, जानिए आपके फायदे की बात

कैच ब्यूरो | Updated on: 22 January 2017, 13:23 IST

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव से पहले सूबे के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने लखनऊ में आयोजित एक कार्यक्रम में रविवार को समाजवादी पार्टी का घोषणा पत्र जारी कर दिया. इसमें स्पीकर माता प्रसाद पांडे समेत पार्टी के कई मंत्र व नेता शामिल हुए जबकि पार्टी कार्यालय के बाहर हजारों समर्थकों की भीड़ मौजूद रही. मंच पर अखिलेश यादव के साथ डिंपल यादव भी मौजूद रहीं. वहीं, इस कार्यक्रम में मुलायम सिंह यादव और शिवपाल यादव नहीं पहुंचे. कहा जा रहा है कि आजम खान मुलायम के घर उन्हें मनाने गए हैं.

कार्यक्रम के दौरान अखिलेश यादव ने लोगों को संबोधित करते हुए कहा, "2012 के घोषणा पत्र को हमने पूरा किया है और आगे भी ज्यादा अच्छा काम करना है. सपा ने इन पांच सालों में सिर्फ विकास का कार्य किया है. इतने कम उम्र में मुख्यमंत्री बनने का मौका मिला है, नेता जी के आशीर्वाद से आज मैं यहां हूं. 2017 में समाजवादी पार्टी फिर सरकार बनाएगी. दूसरी पार्टियों ने विकास के नाम पर कभी झाड़ूू पकड़ाई तो कभी योगा करवाया."

जानिए क्या है घोषणा पत्र में

  • समाजवादी किसान कोष की स्थापना होगी.
  • एक करोड़ लोगों को 1000 रुपये मासिक पेंशन देगी सरकार.
  • प्राइमरी स्कूल में बच्चों को एक लीटर घी मिलेगा.
  • असंगठित क्षेत्र के मजदूरों के लिए योजना लागू होगी.
  • गरीब महिलाओं को प्रेशर कुकर बांटेगी सपा सरकार.
  • अल्पसंख्यकों को कौशल विकास पर जोर दिया जाएगा.
  • वरिष्ठ नागरिकों के लिए ओल्ड एज होम बनाएंगे.
  • महिलाओं के लिए रोडवेज बस में आधा किराया.
  • वोकेशनल ट्रेनिंग सेंटर बनाने का काम भी करेंगे.
  • व्यापारियों की सुरक्षा की गारंटी लेगी सरकार.
  • गांव में 24 घंटे बिजली पहुंचाने का काम.
  • गांव में जानवरों के इलाज के लिए पहुंचेगी एंबुलेंस.
  • हर जिले को फोरलेन से जोड़ने का सरकार का संकल्प.

मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा कि सपा सरकार गांव में 18 और शहरों में 24 घंटे बिजली दे रही है. एंबुलेंस भी गांव-गांव पहुंच रही है. 1090 और 100 नंबर को और प्रभावी बनाया है. सबसे बड़ी सड़क आगरा एक्सप्रेस-वे बनाई. अगर जनता दोबारा मौका दे तो बलिया-गाजीपुर तक सड़क पहुंचेगी.

गौरतलब है कि सपा आगामी चुनाव के लिए 210 उम्मीदवारों के नाम की घोषणा कर चुकी है. इस बार का उप्र विधानसभा चुनाव कई मायनों में बेहद अनोखा और खास है. पहले चरण के चुनाव के लिए नामांकन की प्रक्रिया शुरू हो चुकी है, लेकिन इस बार राजनीतिक पार्टियों ने अभी तक अपना घोषणापत्र जारी नहीं किया है.

First published: 22 January 2017, 13:23 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी