Home » उत्तर प्रदेश चुनाव » If BJP is elected in Uttar Pradesh, they will end reservation for lower castes: BSP Supremo Mayawati
 

मायावती: बीजेपी के सत्ता में आते ही दलित-आदिवासियों का आरक्षण हो जाएगा ख़त्म

कैच ब्यूरो | Updated on: 28 January 2017, 18:15 IST
(एएनआई)

उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव के लिए बीजेपी ने आज अपना घोषणा पत्र जारी किया. बीजेपी के घोषणा पत्र पर निशाना साधते हुए बसपा सुप्रीमो मायावती ने लखनऊ में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस की. 

मायावती ने केंद्र सरकार पर वादाखिलाफी का आरोप लगाते हुए कहा कि भाजपा को घोषणा पत्र जारी करने का नैत‌िक अध‌िकार नहीं है. बीजेपी पहले अपने पुराने वादे पूरे करे. बीजेपी ने लोकसभा चुनाव के वक्त किये अपने एक चौथाई वादे भी नहीं पूरे किये.

बीजेपी के घोषणापत्र पर हमला करते हुए बीएसपी मुखिया ने कहा कि अच्छे दिन कहां आए? बीजेपी ने लोकसभा में अच्छे दिन का वादा किया था. बीजेपी ने सौ दिनों में विदेशों से कालाधन वापस लाकर हर गरीब परिवार को 15 लाख का वादा किया था.

मायावती ने आगे कहा कि बीजेपी मौका पाते ही दलित, आदिवासियों के आरक्षण को हमेशा के लिए खत्म कर देगी. 

केंद्र सरकार पर हमला बोलते हुए मायावती ने कहा कि बीजेपी ने जनता से झूठे वादे किये. केंद्र के प्रलोभन भरे वादे अभी तक अधूरे ही हैं. यूपी में सपा और भाजपा की मिलीभगत है. बीजेपी का घोषणापत्र लोगों की आंखों में धूल झोंकने वाला है.

नोटबंदी के फैसले पर निशाना साधते हुए बसपा सुप्रीमो ने कहा क‌ि नोटबंदी की मार से 90 फीसदी लोग परेशान हुए हैं. सर्जिकल स्ट्राइक के नाम पर बीजेपी ध्यान बांट रही है. बिना तैयारी वाले नोटबंदी के फैसले के बाद देश का गरीब और किसान बीजेपी को अभी तक कोस रहा है.

मायावती ने कहा कि भाजपा का सरकारी मकान देने का वादा भी झूठा निकला. दलित वर्ग भाजपा के बहकावे में आने वाला नहीं है. 

बसपा सुप्रीमो ने अपने कार्यकाल की तारीफ करते हुए कहा कि बिना घोषणा पत्र जारी किये और बिना प्रलोभन दिये बीएसपी की पिछली चार सरकार ने अच्छा काम करके दिखाया है. 

First published: 28 January 2017, 18:15 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी