Home » उत्तर प्रदेश चुनाव » kairana bypoll: tabassum hasan says this is the victory of truth and I dont want any future elections to be conducted on EVM machines
 

कैराना उपचुनाव: तबुस्सम ने कहा- ये सच्चाई की जीत है, 2019 में हम बीजेपी को हराएंगे

कैच ब्यूरो | Updated on: 31 May 2018, 12:44 IST
(ANI)

देश में लोकसभा की 4 और विधानसभा की 10 सीटों पर हुए उपचुनाव के लिए मतगणना जारी है. आज इन सीटों पर विजयी उम्मीदवार के नाम का फैसला हो जाएगा. इस उपचुनाव में उत्तर प्रदेश की कैराना लोकसभा सीट पर सबकी नजर है.

महागठबंधन की ओर से उम्मीदवार तबस्सुम हसन बीजेपी उम्मीदवार से करीब 30 हज़ार वोटों से आगे चल रही हैं. बीजेपी उम्मीदवार मृगांका सिंह की हारती नजर आ रही हैं. मृगांका सिंह की पूर्व बीजेपी सांसद हुकुम सिंह की बेटी हैं. हुकुम सिंह के निधन के बाद ही ये सीट खाली हुई थी.

वोटों की गिनती के बीच महागंठबंधन की ओर से उम्मीदवार तबस्सुम हसन ने कहा है कि ये सच्चाई की जीत है. मैंने जो कुछ कहा था उसके साथ खड़ी हूं. ईवीएम और वीवीपैट में बीजेपी की ओर से गड़बड़ी की जाती है. मैं अपने स्टंड पर कायम हूं. उन्होंने कहा कि हमारी मांग हैं कि आगे चलकर कोई भी चुनाव ईवीएम से नहीं कराए जाने चाहिए. पूरा विपक्ष इस पर एकजुट है. उन्होंने अपनी जीत को लेकर कहा कि अभी ये महागठबंधन की शुरुआत है, ये आगे चलकर और भी मजबूत होगा.

मीडिया खबरों के अनुसार, तबस्सुम ने जिन्ना की तस्वीर के मुद्दे को लेकर कहा कि ये बीजेपी की देन था. बीजेपी ने इसको मुद्दा बना दिया. इनका ध्यान किसानों की समस्या और विकास पर नहीं है, ये ऐसे ही मुद्दों को भुनाने की कोशिश करते हैं. उन्होंने कहा कि बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा कि अंहकारी लोग कह रहे हैं. उनका कोई विकल्प नहीं है, लेकिन ऊपर वाले ने विकल्प तैयार कर दिया है. हम साल 2019 में बीजेपी को हराकर ही रहेंगे.

ये भी पढ़ें- उपचुनाव: 3 लोकसभा सीटों के हारने से BJP के बहुमत के जादुई आंकड़े में लगेगी सेंध!

First published: 31 May 2018, 12:44 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी