Home » उत्तर प्रदेश चुनाव » Mulayam Singh's wife Sadhna Yadav: We face humiliation I don't know who misled Akhilesh
 

मुलायम की पत्नी साधना बोलीं- मेरा बहुत अपमान हुआ अखिलेश को पता नहीं किसने बहकाया

कैच ब्यूरो | Updated on: 7 March 2017, 15:27 IST
(एएनआई)

मुलायम सिंह यादव की दूसरी पत्नी साधना यादव ने परिवार के विवाद पर बड़ा बयान दिया है. यूपी में अभी विधानसभा चुनाव के नतीजे आने से पहले साधना ने आरोप लगाया है कि उनका अपमान हुआ है.

समाचार एजेंसी एएनआई को दिए बयान में साधना यादव ने कहा, "अब हम पीछे नहीं हटेंगे. मेरा बहुत अपमान हुआ है." साधना की बहू और मुलायम सिंह के दूसरे बेटे प्रतीक यादव की पत्नी अपर्णा यादव लखनऊ कैंट सीट से सपा के टिकट पर चुनाव लड़ रही हैं. 

साधना ने इस दौरान यादव परिवार में आई दरार की खबरों पर अपनी राय देते हुए कहा, "हां परिवार में जो कुछ हुआ उसका मुझे अफसोस है. मैं इसके लिए किसी पर आरोप नहीं लगाना चाहती. पिछले पांच साल के मुकाबले एक जनवरी के बाद से मैं अखिलेश के ज्यादा संपर्क में हूं. मैं अपनी पार्टी को दोबारा जीतते और अखिलेश को मुख्यमंत्री बनते देखना चाहती हूं."   

'शिवपाल की कोई ग़लती नहीं'

शिवपाल यादव का जिक्र करते हुए साधना ने कहा, "नेताजी का किसी को अपमान नहीं करना चाहिए. उन्होंने ही पार्टी बनाई और उसे आज यहां तक पहुंचाया है. शिवपाल यादव का अपमान नहीं होना चाहिए. उनकी कोई ग़लती नहीं है. उन्होंने नेताजी और पार्टी के लिए बहुत कुछ किया है." 

साधना ने इस दौरान मुख्य सचिव को लेकर हुए कथित विवाद पर सफाई देते हुए कहा, "एक मुख्य सचिव का ट्रांसफर हुआ. लोगों ने कहा कि इसके पीछे मैं हूं. यह गलत था. मुझे नहीं पता कि अखिलेश को किसने बहकाया. वह मेरी और नेताजी की बहुत इज्जत करते हैं." 

'प्रतीक राजनीति में आएं'

राजनीति में एंट्री के सवाल पर साधना ने कहा कि बेटे प्रतीक को राजनीति में लाने की उनकी इच्छा है. साधना ने कहा, "नेताजी ने मुझे नहीं आने दिया पर हां बैकग्राउंड में काम करते रहे. लेकिन अब मैं राजनीति में नहीं आना चाहती. लेकिन हां मैं चाहती हूं कि मेरा बेटा प्रतीक राजनीति में आए." 

गौरतलब है कि प्रतीक इससे पहले कहते रहे हैं कि वह राजनीति में नहीं आना चाहते हैं. यूपी में सात चरणों में विधानसभा चुनाव हो रहा है. अब आखिरी दौर का मतदान बाकी है. चुनाव के नतीजे 11 मार्च को आएंगे. इससे पहले साधना यादव ने सैफई में 19 फरवरी को मुलायम और बहू अपर्णा के साथ वोट डाला था. इस दौरान साधना ने कहा था कि अखिलेश और प्रतीक उनकी आंख के दो तारे हैं.

First published: 7 March 2017, 15:03 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी