Home » उत्तर प्रदेश चुनाव » Delhi: Shivpal Yadav preaches Akhilesh to honour Mulayam Singh Yadav
 

शिवपाल बोले- 'पिता का सम्मान करें अखिलेश, सांप्रदायिकता को हराने के लिए महागठबंधन'

कैच ब्यूरो | Updated on: 27 October 2016, 12:06 IST
(कैच)

परिवार में मचे घमासान के बीच समाजवादी पार्टी के उत्तर प्रदेश अध्यक्ष शिवपाल यादव दिल्ली पहुंचे. शिवपाल ने इस दौरान पत्रकारों से बातचीत में जहां सीएम अखिलेश यादव को कई नसीहतें दीं, वहीं विधानसभा चुनाव में महागठबंधन के भी संकेत दिए. 

परिवार के साथ दिल्ली पहुंचे शिवपाल ने अखिलेश यादव को नसीहत देते हुए कहा, "मुख्यमंत्री अखिलेश यादव को अपने पिता मुलायम सिंह का सम्मान करना चाहिए और उनकी बातें माननी चाहिए. उन्हें किसी के बहकावे में नहीं आना चाहिए."

'महागठबंधन रोकने के लिए साजिश'

इस दौरान शिवपाल ने कहा कि नेताजी ने ही अखिलेश को मुख्यमंत्री बनाया है, लिहाजा उन्हें कभी भी ऐसा कदम नहीं उठाना चाहिए जिससे नेताजी को दुख हो, उनको खुश रखना हम सभी की जिम्मेदारी है.

शिवपाल ने रामगोपाल यादव पर एक बार फिर निशाना साधा. शिवपाल ने कहा कि उत्तर प्रदेश में महागठबंधन बनने से रोकने के लिए विधानसभा चुनाव से पहले समाजवादी पार्टी के खिलाफ साजिश की गई है.

तांत्रिकों की मदद लेने के आरोपों पर शिवपाल ने कहा कि वह इन सब चीजों में यकीन नहीं रखते हैं. जो भी लोग ऐसे आरोप लगा रहे हैं, वही ऐसा करते होंगे.

वहीं कैबिनेट में वापसी के सवाल पर शिवपाल यादव ने कहा कि अब मैं मंत्री नहीं हूं, इसलिए मैं अखिलेश यादव के अधीन नहीं हूं.

'समाजवादी-लोहियावादियों का लेंगे साथ'

कैबिनेट में वापसी के बारे में शिवपाल ने कहा कि नेताजी का जो भी आदेश होगा उसका वे पालन करेंगे.

इस दौरान शिवपालन ने यूपी विधानसभा चुनाव में महागठबंधन के संकेत देते हुए कहा कि वह एक ऐसा गठबंधन बनाना चाहते हैं, जिससे सांप्रदायिक ताकतों को मात दी जा सके.

शिवपाल ने कहा, "हम ऐसे लोगों को साथ लेकर चुनाव में उतरना चाहते हैं जो समाजवादी हों, लोहियावादी हों. उत्तर प्रदेश में हमारी सरकार फिर से बनेगी."

'रथयात्रा में बुलाएंगे तो जाऊंगा'

सपा प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि अखिलेश यादव अगर उन्हें 3 नवंबर से शुरू हो रही समाजवादी विकास रथ यात्रा में शामिल होने के लिए बुलावा भेजते हैं. तो जरूर जाएंगे. 

बुधवार को शिवपाल यादव ने अखिलेश के करीबी मंत्री पवन पांडेय को सपा से छह साल के लिए बाहर निकाल दिया. पवन पांडेय को सपा एमएलसी आशु मलिक को थप्पड़ मारने का आरोप है.

शिवपाल यादव ने प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कहा कि उन्होंने मुख्यमंत्री को पत्र लिखकर वन राज्यमंत्री पवन पांडेय को मंत्री पद से बर्खास्त करने की अपील की है.

अखिलेश यादव तीन नवंबर से समाजवादी विकास रथ यात्रा निकालने जा रहे हैं. (फेसबुक)
First published: 27 October 2016, 12:06 IST
 
अगली कहानी