Home » उत्तर प्रदेश चुनाव » Akhilesh Yadav: The road of politics is zig-zag
 

अखिलेश यादव: नेताजी से मिली सियासी ट्रेनिंग, जिन्होंने साजिश की उन्हें मार दिया दांव

कैच ब्यूरो | Updated on: 4 February 2017, 14:31 IST
(एएनआई)

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने औरैया में एक चुनावी रैली को संबोधित किया. इस दौरान अखिलेश ने समाजवादी पार्टी में कई महीने तक चले घमासान पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि मुलायम सिंह से मिली ट्रेनिंग की वजह से इससे पार निकलने में कामयाब रहे. 

अखिलेश यादव ने कहा, "क्योंकि नेताजी ने ही हमें राजनीति में भेजा, ट्रेनिंग दी, तो जिन्होंने साजिश की उन्हें हमने भी दांव मार दिया इस बार." 

माना जा रहा है कि अखिलेश ने इशारों में अपने चाचा और सपा के वरिष्ठ नेता शिवपाल सिंह यादव पर निशाना साधा है. हाल ही में शिवपाल यादव ने जसवंतनगर से पर्चा दाखिल करने के बाद एलान किया था कि 11 मार्च को नतीजे आने के बाद अखिलेश यादव सरकार बनाएंगे और हम नई पार्टी बनाएंगे.  

'राजनीति का रास्ता टेढ़ा-मेढ़ा'

इस दौरान अखिलेश ने कहा कि मुलायम सिंह और सपा अलग नहीं हुए हैं. अखिलेश ने कहा, "समाजवादी पार्टी नेताजी की है. एक बार लगा कि साइकिल कहीं निकल न जाए. कैसे दिन कटे हम ही जानते हैं. लेकिन राजनीति का रास्ता है टेढ़ा-मेढ़ा." 

यूपी चुनाव में इस बार समाजवादी पार्टी और कांग्रेस गठबंधन चुनाव मैदान में है. 403 विधानसभा सीटों में से सपा 298 और कांग्रेस 105 सीटों पर चुनाव लड़ रही है. यूपी में पहले चरण का चुनाव 11 फरवरी को होगा. सात चरणों के चुनाव में आखिरी दौर की वोटिंग 8 मार्च को होगी, जबकि वोटों की गिनती 11 मार्च को होगी. 

First published: 4 February 2017, 14:31 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी