Home » उत्तर प्रदेश चुनाव » Mulayam Singh Yadav praises his son Akhilesh yadav in an interview with english newspaper
 

मुलायम सिंह: अखिलेश का करूंगा प्रचार, सपा सरकार ने मुस्लिमों में जीने का भरोसा जगाया

कैच ब्यूरो | Updated on: 20 January 2017, 16:17 IST
(एएनआई)

समाजवादी पार्टी के संरक्षक मुलायम सिंह यादव ने सपा के विवाद में हार के बाद पहली बार बड़ा एलान किया है. एक अंग्रेजी अखबार को दिए इंटरव्यू में मुलायम ने कहा कि वह विधानसभा चुनाव के दौरान अखिलेश यादव के समर्थन में प्रचार करेंगे.

अंग्रेजी अखबार इकोनॉमिक टाइम्स से बातचीत में मुलायम ने कहा,"बेटे अखिलेश को मेरा पूरा आशीर्वाद है और अब यादव परिवार में सब कुछ ठीक है. चुनाव में पार्टी के लिए प्रचार में पूरी तरह से लगूंगा." 

मुलायम ने साथ ही साक्षात्कार के दौरान कहा कि समाजवादी पार्टी सरकार की सबसे बड़ी कमयाबी यह है कि उसने मुसलमानों के मन से डर को दूर किया है. 

अखिलेश यादव ने सपा के प्रचार वाहन में मुलायम की तस्वीर सबसे ऊपर रखी है. (एएनआई)

'आखिरकार वह मेरा बेटा है'

उत्तर प्रदेश में सात चरणों में चुनाव होने हैं. गुरुवार को सपा के प्रचार वाहन में मुलायम सिंह यादव की तस्वीर सबसे ऊपर लगी थी. राज्य में सपा का बीजेपी और बीएसपी से मुकाबला है. मुलायम ने अंग्रेजी अखबार से कहा, "अब सब कुछ ठीक है, मेरा अख‍िलेश और बाकी सबको पूरा आशीर्वाद है कि वे फिर से सरकार बनाएं. सपा के पोस्टर पर मेरा चेहरा मौजूद है, लेकिन मैं प्रचार भी करूंगा."

अखिलेश के कामकाज पर मुलायम ने कहा, "जितना बढ़िया कर सकता है, उसने किया. अखिलेश का इरादा हमेशा अच्छा काम करने का रहा है. आखिरकार वह मेरा बेटा है." साथ ही मुलायम ने दावा किया कि परिवार के बीच विवाद का सपा के काडर पर बुरा असर नहीं पड़ेगा. 

मुलायम ने साथ ही कहा, "समाजवादी सरकार की सबसे बड़ी सफलता है कि इसने मुसलमानों के दिमाग से डर को दूर किया है. मुसलमान मुझसे कहते हैं कि मेरी वजह से उनके अंदर जीने का भरोसा आया है. उन्होंने मुझसे कहा कि मेरे अलावा दूसरा कोई नेता उनके लिए नहीं हो सकता."

'बीजेपी डर का माहौल बना रही है'

कांग्रेस और सपा के बीच गठबंधन को लेकर मुलायम ने कहा, "हमारी पार्टी जबान देती है तो टिकती है. ये जो सौदा करने वाले कुछ लोग होते हैं, हम वैसे नहीं हैं. हम सौदा नहीं करते. किसी से पूछ लो."

मुलायम ने अंग्रेजी अखबार को दिए इंटरव्यू में कहा, "बीजेपी डर का माहौल बना रही है. भाजपा दीन दयाल उपाध्याय की श‍िक्षा को भूल गई है. कांग्रेस को महात्मा गांधी के रास्ते को नहीं छोड़ना चाहिए और उसी तरह बीजेपी को दीन दयाल उपाध्याय के रास्ते को." इसके साथ ही मुलायम ने नोटबंदी के मामले में भी मोदी सरकार को कठघरे में खड़ा किया. 

इस बीच शुक्रवार को जारी की गई सपा की सूची में शिवपाल यादव को जसवंतनगर से टिकट दिया गया है. हालांकि प्रचार वाहन पर शिवपाल की तस्वीर को जगह नहीं मिली है. बताया जा रहा है कि मुलायम ने जिन 38 लोगों की लिस्ट अखिलेश को भेजी थी उनमें शिवपाल के बेटे आदित्य यादव का भी नाम था, हालांकि आदित्य कोे टिकट नहीं मिला है. 

फाइल फोटो
First published: 20 January 2017, 16:17 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी