Home » उत्तर प्रदेश चुनाव » Mulayam Singh: We always fight against Congress
 

सपा-कांग्रेस की दोस्ती से नाराज़ मुलायम, कहा- नहीं करूंगा गठबंधन का प्रचार

कैच ब्यूरो | Updated on: 30 January 2017, 9:43 IST
(फाइल फोटो)

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में कांग्रेस और सपा के बीच गठबंधन से मुलायम सिंह यादव नाराज़ हैं. जहां एक ओर रविवार को लखनऊ में अखिलेश यादव और राहुल गांधी दोस्ती की पींगें बढ़ा रहे थे, वहीं दूसरी ओर सपा के संस्थापक मुलायम सिंह दिल्ली जाने की तैयारी कर रहे थे. 

लखनऊ एयरपोर्ट पर तो मुलायम ने पत्रकारों के सवाल का जवाब नहीं दिया, लेकिन जब वोे दिल्ली पहुंचे तो खुलकर नाराजगी का इजहार करते हुए कहा कि वह सपा और कांग्रेस के गठबंधन के समर्थन में प्रचार नहीं करेंगे. 

'हम हमेशा कांग्रेस के खिलाफ लड़े'

मुलायम ने कहा, "मैं बिल्कुल गठबंधन के खिलाफ हूं. मैं इसके पक्ष में प्रचार नहीं करूंगा. कांग्रेस ने लंबे समय तक देश पर शासन किया और इसे पीछे ले गई. हम हमेशा कांग्रेस के खिलाफ लड़े."  

मुलायम ने आगे कहा, "समाजवादी पार्टी अकेले चुनाव लड़ने में सक्षम है. पहले भी उसने अकेले चुनाव लड़ा और बहुमत की सरकार बनाई. किसी मौके पर गठबंधन की जरूरत नहीं पड़ी."

राहुल-अखिलेश की जुगलबंदी

इससे पहले लखनऊ में रविवार को यूपी के सीएम अखिलेश यादव और कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने साझा प्रेस कॉन्फ्रेंस की. इस दौरान दोनों एक-दूसरे के गले लगे. राहुल ने जहां एक और कहा कि गंगा और यमुना के संगम से विकास की सरस्वती निकलेगी, वहीं अखिलेश ने भी राहुल के तीन पी (पीस, प्रॉस्पेरिटी और प्रोग्रेस) में चौथा पी पीपुल जोड़ते हुए जुगलबंदी दिखाई. 

प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान दोनों ने कहा कि चुनाव में उनका मकसद बीजेपी को किसी हाल में हराना है. राहुल ने कहा कि आरएसएस और बीजेपी की क्रोध और बांटने वाली राजनीति को यूपी की जनता जवाब देगी. अखिलेश ने कहा कि नोटबंदी के बाद कतार में लगने वाले लोग इस बार मतदान के दौरान कतार में लगकर बीजेपी को सबक सिखाएंगे. 

वहीं राहुल ने बसपा के प्रति नरम रुख दिखाया. राहुल ने कहा कि बीजेपी की राजनीति से देश को खतरा है, लेकिन मायावती जी की सियासत से देश को कोई नुकसान नहीं है. इसे 2019 के लोकसभा चुनाव में राहुल की सियासत से जोड़कर देखा जा रहा है. राहुल और अखिलेश ने हजरतगंज से चौक के घंटाघर तक रोड शो निकालने के बाद लोगों को संबोधित भी किया.

ट्विटर
First published: 30 January 2017, 9:43 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी