Home » उत्तर प्रदेश चुनाव » PM Modi attacks SP Govt and Akhilesh Yadav during BJP Parivartan rally at Bijnor
 

पीएम मोदी बोले- बलिया से बिजनौर तक परिवर्तन की लहर, गठबंधन नहीं कुनबों का मिलन

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 February 2017, 16:42 IST
(ट्विटर)

यूपी में अब दूसरे चरण का चुनाव प्रचार जोर पकड़ रहा है. यूपी के बिजनौर में प्रधानमंत्री मोदी ने बीजेपी की विजय शंखनाद रैली को संबोधित किया. इस दौरान पीएम मोदी ने अखिलेश यादव सरकार पर जमकर निशाना साधा. 

पीएम मोदी ने कांग्रेस और सपा के गठबंधन पर निशाना साधते हुए कहा कि ये गठबंधन दो पार्टी का नहीं दो कुनबे का मिलन है. पीएम ने कहा, "यूपी में भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनते ही अखिलेश के पापों का हिसाब लिया जाएगा." 

पीएम ने साथ ही बीजेपी की जीत का दावा करते हुए कहा, "जहां-जहां रैली किया हूं ऐसा लगता है केसरिया सागर उमड़ पड़ा है. मै सबसे कहता हूं कि उत्तर प्रदेश में परिवर्तन लाएं और कुनबे से उत्तर मांगे." पीएम मोदी ने कहा कि बलिया से बिजनौर तक परिवर्तन की लहर चल रही है. 

बिजनौर रैली में मोदी के 10 बड़े हमले

  1. यूपी में कोई विधानसभा नहीं जहां सपा वालों ने भाजपा के कार्यकर्ताओं को गलत गुनाहों का आरोप लगाकर जेल में न डाला हो उत्तर प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनते ही अखिलेश के पापों का हिसाब लिया जाएगा.
  2. जहां-जहां रैली किया हूं ऐसा लगता है कि केसरिया सागर उमड़ पड़ा है जिन्हें राजनीति का 'र' भी पता नहीं होता उन्हें भी लगता है ये आंधी नहीं तो क्या है. 
  3. उत्तर प्रदेश की सरकार हर मोर्चे पर विफल रही है, ये सरकार किसी का भला नहीं कर सकती है इसलिए ऐसी सरकार को उत्तर प्रदेश से निकालना है, बलिया से बिजनौर तक परिवर्तन की लहर चल रही है.
  4. जो '27 साल यूपी बेहाल' का नारा देकर, तू-तू मैं-मैं कर रहे थे, वो मोदी ही लहर देखकर एक दूसरे के गले लग गए जिस इंसान से कांग्रेस के बड़े नेता भी किनारा कर लिए, उस नेता को अखिलेश ने गले लगा लिया. 
  5. तपते सूरज में भी अकेली बहन-बेटियां उत्तर प्रदेश में नहीं निकल पाती है, शाम की तो बात ही नहीं करना है बदायूं में बलात्कार होने के बाद समाजवादी पार्टी के नेताओं ने बहुत ही शर्मानाक बयान दिया था. सपा के मुखिया ने तो कहा था, बलात्कारियों को फांसी नहीं होनी चाहिए, क्योंकि लड़कों से गलती हो जाती है.
  6. यह गठबंधन दो पार्टी का नहीं, यह दो कुनबे का मिलन है. एक कुनबे ने देश को तबाह किया और एक कुनबे ने प्रदेश को बर्बाद कर दिया, अगर दोनों एक हो गए तो कुछ भी नहीं बचेगा.
  7. मायावती के राज में जिसपर भ्रष्टाचार का आरोप था उसे अखिलेश ने क्लिन चिट दे दी, किसी को भी जेल नहीं भेजा. अखिलेश सरकार एक भ्रष्ट आदमी को बचाने के लिए प्रदेश की जनता का पैसा खर्च कर सुप्रीम कोर्ट गई. 
  8. उत्तर प्रदेश में गन्ना किसानों का बकाया नहीं मिला है, ये अखिलेश का काम था लेकिन किसी भी किसान को नहीं दिया मैंने जैसे ही सत्ता संभाली और अपनी तिजोरी से गन्ना किसानों को 22 लाख करोड़ रुपया उनके खातों में सीधे जमा करवा दिया.
  9. जब चौधरी चरण सिंह जी प्रधानमंत्री बने थे तब खाद का दाम कम हुआ था, उसके बाद अभी जाकर खाद का दाम कम हुआ है. सरकार बनते ही प्रदेश के खजाने से हर जिले में चौधरी चरण सिंह कल्याण कोष बनाया जाएगा.
  10. यूपी का किसान पूरे हिंदुस्तान का पेट भरता है, लेकिन यहां के किसानों को सिर्फ 14 फीसदी बीमा का लाभ हुआ. भाजपा शासित राज्यों में 50 फीसदी से ज्यादा किसानों को फसल बीमा का लाभ हुआ यहां की सरकार, मरी हुई सरकार है.

First published: 10 February 2017, 16:42 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी