Home » उत्तर प्रदेश चुनाव » PM Modi: What is the reason that fruits of development could not reach this land under SP, BSP?
 

बदायूं रैली में बोले पीएम मोदी- 'अखिलेश का काम नहीं कारनामे बोलते हैं'

कैच ब्यूरो | Updated on: 11 February 2017, 13:39 IST
(ट्विटर)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने यूपी के बदायूं में बीजेपी की परिवर्तन संकल्प रैली को संबोधित किया. इस दौरान पीएम मोदी ने सपा सरकार पर जमकर निशाना साधा. पीएम मोदी ने बदायूं गैंगरेप को लेकर भी हमला बोला. पीएम ने रेप पर गलतियों वाले मुलायम सिंह के बयान का भी जिक्र किया.

अखिलेश सरकार को कठघरे में खड़ा करते हुए पीएम ने कहा, "अखिलेश बोलते हैं कि काम बोलता है, जबकि बच्चा-बच्चा जानता है कि अखिलेश का काम नहीं कारनामे बोलते हैं." 

'यूपी में अच्छे दिन की जिम्मेदारी अखिलेश की'

पीएम मोदी ने इस दौरान अच्छे दिन को लेकर अखिलेश के सवाल उठाने पर कहा, "पांच साल में अगर यूपी के अच्छे दिन नहीं आए तो इसका हिसाब अखिलेश को देना चाहिए."

पीएम मोदी ने कहा कि यूपी के अच्छे दिनों की जिम्मेदारी अखिलेश यादव की है. पीएम ने इस दौरान एमएलसी (विधान परिषद) चुनाव में तीनों सीटों पर बीजेपी की जीत पर पार्टी के पक्ष में आंधी की बात कही. 

'MLC चुनाव में जीत से मिला संकेत'

पीएम ने कहा, "MLC की तीनों सीटों पर बीजेपी की जीत हुई है. 11 फरवरी को यहां की जनता ने संकेत दिया है कि आगे क्या होने वाला है. आपने संकेत दे दिया है कि उत्तर प्रदेश में आंधी कितनी तेज है." 

पीएम मोदी ने कहा, "यूपी चुनावी मैदान में जो हैं वो तो परेशान होंगे ही, लेकिन उनके कुछ लोग जो दिल्ली में बैठे हैं वो इससे ज्यादा परेशान होंगे."

ट्विटर

मुलायम-मायावती पर हमला

पीएम मोदी ने कहा, "बदायूं तो VIP है, क्योंकि यह तो मुलायम, मायावती का कार्य क्षेत्र रहा हैः. सबसे बुरे जिले में से एक जिला बदायूं हो गया है. बदायूं की जनता ने जिसे अपना आशीर्वाद दिया, उसने इस जिले का क्या हाल बना दिया." 

 पीएम मोदी ने बिजली का जिक्र करते हुए कहा, "काशी और यूपी के आशीर्वाद से मुझे प्रधानमंत्री बनाया और केंद्र में स्थिर सरकार बनी. ये सरकार गरीब, वंचित, शोषित के लिए काम करेगी. आजादी के 70 सालों के बाद 18 हजार गांव ऐसे थे जहां आज भी बिजली नहीं थी. आजाद भारत में ये सबसे बड़ा कलंक था. मैंने कहा 1000 दिनों के भीतर बिजली पहुंचानी है, ये काम पूरा हो गया." 

ट्विटर

'उत्तर प्रदेश की जनता देगी उत्तर'

अखिलेश सरकार को कठघरे में खड़ा करते हुए पीएम ने कहा, "मैं यहां की सरकार से पूछना चाहता हूं कि क्या आपकी जिम्मेदारी नहीं थी? अकेले यूपी में 1500 गांव ऐसे थे जहां बिजली नहीं थी. 2014 में बदायूं से मेरा MP नहीं जीता,लेकिन बदायूं के लोग मेरे थे. 1500 गांव जो कि VIP जिलों में आते थे वहां बिजली नहीं पहुंची. मायावती, मुलायम को जहां पहुंचना था पहुंच गए, लेकिन आजादी के बाद भी यहां बिजली नहीं पहुंच पाई." 

कांग्रेस-सपा गठबंधन पर हमला करते हुए पीएम ने कहा, "लोहिया जी ने जिस कांग्रेस के खिलाफ पूरे जीवन लड़ाई लड़ी, उस कांग्रेस से आज उनके चेले गले लग गए."

सरकारी भर्तियों में भ्रष्टाचार का आरोप लगाते हुए पीएम ने कहा, "यहां जो भर्ती हुई है, उससे यहां की जनता खुश नहीं है, क्योंकि यहां नौकरी में भाई-भतीजावाद हुआ है. जब यहां भाजपा की सरकार बनेगी, तो नौकरी में जो भ्रष्टाचार हुआ है उसकी जांच कराई जाएगी."

कानून व्यवस्था पर सवाल उठाते हुए पीएम बोले, "यहां अपराध होते हैं तो थाने में अपराधियों के खिलाफ FIR नहीं लिखते है, सपा के नेता थानों में अदालत बैठा देते हैं. जहां भी ये सभी नेता जाते हैं वहां सिर्फ वो मोदी की बात करते हैं अपने काम का हिसाब नहीं देते."

किसानों की अनदेखी का आरोप लगाते हुए पीएम ने कहा, "यूपी सरकार किसानों से 3 फीसदी धान खरीदती है और किसानों को तबाह कर देती है, ये अखिलेश के कारनामे हैं. अखिलेश को यहां की जनता को उत्तर देना होगा, अगर नहीं देते तो उत्तर प्रदेश की जनता जरूर इसका उत्तर देगी."

First published: 11 February 2017, 14:01 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी