Home » उत्तर प्रदेश चुनाव » Kironmoy Nanda: SP will fight on 300+ seats, number of seats to be given to Congress is subject to adjustment
 

राजा भैया: अखिलेश लेंगे गठबंधन पर फ़ैसला, लेकिन अकेले बहुमत के लिए काम ही काफ़ी

कैच ब्यूरो | Updated on: 20 January 2017, 15:50 IST
(फाइल फोटो)

समाजवादी पार्टी ने शुक्रवार को 191 विधानसभा सीटों पर अपने उम्मीदवारों के नाम का एलान कर दिया. लिस्ट जारी होने के साथ ही यह सवाल भी उठे कि क्या सीएम अखिलेश यादव ने दबाव की राजनीति के तहत उन सीटों पर प्रत्याशी घोेषित किए हैं, जहां कांग्रेस पहले से जीतती रही है. 

कांग्रेस से सीटोें को लेकर अंतिम फैसला लेने से पहले मथुरा, खुर्जा, हापुड़, शामली और स्वार-टांडा से सपा ने प्रत्याशियों के नाम घोषित कर दिए, जबकि इन सीटों पर कांग्रेस के सिटिंग एमएलए काबिज हैं. मथुरा से कांग्रेस के प्रदीप माथुर तो चार बार जीत चुके हैं. इस बीच गठबंधन को लेकर निर्दलीय विधायक रघुराज प्रताप सिंह राजा भैया का बयान सामने आया है. 

कुंडा से निर्दलीय विधायक और सपा समर्थक राजा भैया ने कहा, "कांग्रेस से गठबंधन पर मुख्यमंत्री अखिलेश यादव फैसला लेंगे, लेकिन मैं व्यक्तिगत रूप से मानता हूं कि अकेले सपा को बहुमत हासिल करने के लिए हमारा काम ही काफ़ी है."

'कांग्रेस को 80 सीटें देने को राजी'

दरअसल सीएम अखिलेश यादव कह चुके हैं कि समाजवादी पार्टी अगर कांग्रेस के साथ गठबंधन करती है, तो उसकी सीटें 325 तक पहुंच सकती हैं. जहां एक ओर राष्ट्रीय लोकदल के साथ उसके गठबंधन के आसार खत्म हो चुके हैं, वहीं दूसरी ओर कांग्रेस को कम सीटों पर राजी करने के लिए अंतिम दौर की रस्साकशी जारी है. 

शुक्रवार को समाजवादी पार्टी ने अपने 191 उम्मीदवारों की पहली लिस्ट जारी की है. सपा के नेता किरणमय नंदा से जब कांग्रेस के साथ सीटों के समझौते को लेकर सवाल पूछा गया, तो उन्होंने कहा, "हमारा प्लान  कांग्रेस को 54 सीटें देने का है. चर्चा के बाद 25-30 सीटें और दे सकते हैं. यानी हम 80 के करीब सीटें देने के लिए तैयार हैं." 

सपा नेता नंदा ने कहा, "हम 300 से ज्यादा सीटों पर चुनाव लड़ेंगे. पहले गठबंधन होने दीजिए. चर्चा और समायोजन के बाद कांग्रेस को सीटें दी जाएंगी."

'नंदा का निजी मत'

सपा के वरिष्ठ नेता नरेश अग्रवाल ने समाचार एजेंसी एएनआई से बातचीत में कहा, "किरणमय नंदा ने कांग्रेस के साथ गठबंधन के बारे में जो कहा वह उनका निजी मत है. सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव इस बारे में अंतिम फैसला लेंगे." 

नरेश अग्रवाल ने कहा, "कांग्रेस के साथ गठबंधन का मामला सीएम अखिलेश यादव के पास है. वही अंतिम फैसला लेंगे. उम्मीद है कि शाम तक चीजें साफ हो जाएंगी." 

First published: 20 January 2017, 15:50 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी