Home » उत्तर प्रदेश चुनाव » Shivpal Yadav is contesting the election from Jaswantnagar assembly constituency
 

मुलायम के बाद अब शिवपाल का यू टर्न- 'कोई नई पार्टी नहीं बनाऊंगा'

कैच ब्यूरो | Updated on: 13 February 2017, 11:00 IST
(ट्विटर)

समाजवादी पार्टी में बयानों पर यू टर्न लेने का सिलसिला जारी है. पहले पार्टी के संरक्षक मुलायम सिंह यादव लगातार अपने बयान से पलटते रहे और अब उनके भाई शिवपाल यादव भी इसी राह पर चलते नज़र आ रहे हैं. 

शिवपाल यादव से जब उनके गृहक्षेत्र इटावा में सोमवार को पत्रकारों ने नई पार्टी बनाने के बयान पर सवाल पूछा तो शिवपाल यादव ने कहा कि वह कोई नई पार्टी नहीं बनाएंगे. शिवपाल का ये बयान उनके पुराने एलान से उलट है, जब जसवंतनगर में बतौर सपा प्रत्याशी पर्चा दाखिल करने के बाद उन्होंने कहा था कि 11 मार्च के बाद अखिलेश यादव सरकार बनाएंगे और हम नई पार्टी बनाएंगे.

'गुस्से में कह दिया होगा'

इससे पहले मुलायम सिंह यादव से भी जब इस बयान पर सवाल पूछा गया था तो उन्होंने शिवपाल के नई पार्टी बनाने की संभावनाओं को खारिज कर दिया था. मुलायम ने कहा था कि शिवपाल ने ऐसा गुस्से में कह दिया होगा. 

यूपी के सीएम और सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव से उनके चाचा शिवपाल यादव के रिश्ते अच्छे नहीं चल रहे हैं. एक जनवरी को सपा के आपातकालीन प्रतिनिधि सम्मेलन में तीन फैसले हुए थे. इनमें मुलायम सिंह की जगह अखिलेश को राष्ट्रीय अध्यक्ष चुनना, शिवपाल यादव को प्रदेश अध्यक्ष पद से हटाना और अमर सिंह से पार्टी की बर्खास्तगी का फैसला शामिल है. 

ट्विटर

हालांकि टिकट बंटवारे के बाद शुरू हुए विवाद में अखिलेश ने अपने चाचा को उनकी पुरानी जसवंतनगर सीट से सपा उम्मीदवार के रूप में टिकट दिया है. मुलायम सिंह ने 11 फरवरी को उनके लिए प्रचार शुरू करते हुए जसवंतनगर में जनसभा भी की. जसवंतनगर में 19 फरवरी को तीसरे चरण के चुनाव में वोट डाले जाएंगे.

ट्विटर
First published: 13 February 2017, 11:23 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी