Home » उत्तर प्रदेश चुनाव » Union Minister Smriti Irani lashes out at Rahul Gandhi and Akhilesh Yadav in Lucknow
 

स्मृति ईरानी: राजनीतिक विरासत को बचाने के लिए साथ आए दो शहजादे

कैच ब्यूरो | Updated on: 5 February 2017, 10:26 IST

केंद्रीय कपड़ा मंत्री स्मृति ईरानी ने सपा और कांग्रेस के बीच हुए गठबंधन पर हमला बोला है. लखनऊ में स्मृति ईरानी ने कहा कि दोनों 'शहजादे' अपनी राजनीतिक विरासत को बचाने के लिए एक साथ खड़े हुए हैं. 

लखनऊ में बीजेपी दफ्तर पर स्मृति ईरानी ने कहा, "कांग्रेस और सपा का गठबंधन अवसरवादी सोच का नतीजा है. दोनों राजनीतिक पार्टियां राजनीतिक स्वार्थ में एकजुट हुई हैं. दोनों शहजादे अपनी राजनीतिक विरासत को बचाने के लिए चिंतित हैं, लेकिन भाजपा यूपी के विकास के लिए चुनाव लड़ रही है."

डिंपल यादव और प्रियंका गांधी के साथ चुनाव प्रचार की संभावनाओं पर स्मृति ने कहा, "मुझे नहीं लगता कि कोई फर्क पड़ेगा. चुनाव प्रचार के लिए मुद्दे ज्यादा जरूरी हैं. कौन किसके साथ प्रचार करता है, इसका कोई मतलब नहीं है."

तीन तलाक के मुद्दे पर स्मृति ने कहा, "महिलाओं की चिंता करने वाले इन दोनों नेताओं (राहुल और अखिलेश) को तीन तलाक पर भी अपना रुख साफ करना चाहिए. उन्हें यह बताना चाहिए कि मुस्लिम महिलाओं की बेहतरी के लिए इस मुद्दे पर उनका क्या कहना है, वे लोग केवल सुविधाजनक राजनीति करते हैं." स्मृति ईरानी ने यह भी कहा कि बाकी दलों के मुकाबले भाजपा ने ज्यादा महिलाओं को टिकट दिया है.

First published: 5 February 2017, 10:26 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी