Home » उत्तर प्रदेश चुनाव » Akhilesh Yadav's advisor Steve Jarding on alleged e-mail It is clear opposition in UP lacks agenda
 

क्या अखिलेश की छवि गढ़ने के लिए रचा गया 'समाजवादी दंगल'?

कैच ब्यूरो | Updated on: 31 December 2016, 11:44 IST
(कैच)

हाल ही में समाजवादी पार्टी की स्थापना की स्वर्ण जयंती (25 साल) के बाद पार्टी के इतिहास में सबसे बड़ा घटनाक्रम सामने आया है. सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष मुलायम सिंह यादव ने अपने बेटे और यूपी के सीएम अखिलेश यादव के साथ ही राष्ट्रीय महासचिव रामगोपाल यादव को छह साल के लिए पार्टी से निकाल दिया है. 

चाचा शिवपाल यादव और अखिलेश यादव के बीच कई महीने से तनातनी देखी जा रही थी, लेकिन टिकटों की लिस्ट जारी होने के बाद जो कुछ हुआ उसका अंदेशा पहले से जताया जा रहा था. हालांकि जिस तरह से मुलायम ने अखिलेश को बाहर का रास्ता दिखा दिया, उसके बाद सियासी फिजाओं में बहुत सारे कयासों का दौर भी तेज है. 

चुनावी रणनीतिकार स्टीव जार्डिंग का कथित ई-मेल

इन सबके बीच सोशल मीडिया पर अखिलेश यादव के अमेरिकी सलाहकार और राजनीतिक रणनीतिकार स्टीव जार्डिंग का एक कथित ई-मेल भी वायरल हो रहा है. अमेरिका की हार्वर्ड यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर स्टीव जार्डिंग को अखिलेश ने यूपी विधानसभा चुनाव के लिए हायर किया है. 

वरिष्ठ पत्रकार राहुल कंवल ने भी अपने ट्विटर हैंडल से इस कथित ई-मेल को ट्वीट किया है. इस ई-मेल के कंटेंट के मुताबिक समाजवादी परिवार का फैमिली ड्रामा सीएम अखिलेश यादव की विकास पुरुष की छवि को गढ़ने के लिए किया गया है. 

जुलाई का कथित मेल हुआ वायरल

जुलाई के इस कथित ई-मेल के मुताबिक अखिलेश को डेवलपमेंट आइकन के रूप में प्रोजेक्ट करने के लिए पार्टी की अंदरूनी लड़ाई को दिखाना जरूरी है. इससे अखिलेश की बेहतर इमेज उभर कर आएगी और वे मजबूत सीएम के तौर पर प्रचारित होंगे. 

हालांकि राहुल कंवल ने अपने अगले ट्वीट में लिखा है कि ऐसा मानना है कि समाजवादी परिवार का ड्रामा फर्जी है, एक निहायत ही सीधा नजरिया होगा. कंवल ने ट्वीट किया, "न्यू ईयर की शाम मोदी जी के नाम. न्यू ईयर की सुबह अखिलेश मुलायम के नाम. इस वीकेंड से उबरने के लिए एक और वीकेंड की जरूरत है."

ट्विटर

स्टीव जार्डिंग ने किया इनकार

स्टीव जार्डिंग ने इस बीच कथित ई-मेल को खारिज किया है. पत्रकार राहुल कंवल ने शनिवार की सुबह दो ट्वीट करते हुए जार्डिंग के हवाले से इस ई-मेल को बेबुनियाद बताया है. 

राहुल कंवल ने ट्वीट किया, "सीएम अखिलेश यादव के सलाहकार स्टीव जार्डिंग ने ऐसा कोई भी ई-मेल भेजने से इनकार किा है. उन्होंने कहा कि जो लोग अखिलेश यादव की बेदाग छवि से डरे हुए हैं, वे ऐसी झूठी अफवाहें फैला रहे हैं." 

'विपक्ष के पास एजेंडे का अभाव'

स्टीव जार्डिंग ने कहा है, "यह साफ है कि उत्तर प्रदेश में विपक्ष के पास एजेंडे का अभाव है और वह सीएम के निष्कलंक रिकॉर्ड को मेरे झूठे ई-मेल के जरिए निशाना बनाना चाहता है." 

स्टीव जार्डिंग को सपा की चुनावी रणनीति बनाने के लिए अखिलेश ने हायर किया था. जिसके बाद जार्डिंग ने लखनऊ में कहा था कि अभी बहुत से लोग राज्य सरकार की पॉलिसी को मोदी सरकार की मानते हैं, इस भ्रम को तोड़ने की जरूरत है. जार्डिंग ने कहा था कि अखिलेश सरकार की नीतियों को गांव-गांव तक पहुंचाना उनका मकसद है.

First published: 31 December 2016, 11:44 IST
 
अगली कहानी