Home » उत्तर प्रदेश » Agra Bus Hijack: Armed Criminals took forcibly away private bus with 34 passengers
 

आगरा में यात्रियों से भरी बस हाईजैक, देर रात से अभी तक नहीं चला पता, बस में 34 यात्री सवार

कैच ब्यूरो | Updated on: 19 August 2020, 10:55 IST
(प्रतीकात्मक फोटो)

Agra Bus Hijack: आगरा (Agra) में एक बस के हाईजैक (Bus Hijack) करने की खबर आ रही है. बताया जा रहा है कि 34 यात्रियों (Passengers) से भरी बस देर रात से गायब है जिसका अभी तक कोई पता नहीं चला है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, आगरा के मलपुरा (Malpura) के न्यू दक्षिणी बाईपास स्थित रायभा टोल प्लाजा (Raibha Toll Plaza) के पास से एक बस को हाईजैक (Hijack) कर लिया गया. बस में 34 सवारियां सवार थीं. बताया जा रहा है कि ये बस गुरुग्राम से मध्यप्रदेश के पन्ना जा रही थी. बस को एक गाड़ी में सवार कुछ लोगों ने तड़के सुबह करीब चार बजे रुकवा लिया.

चालक के मुताबिक, बस को रुकवाने वाले लोगों ने खुद को फाइनेंस कर्मी बताया और बस को अपने कब्जे में ले लिया. इसके बाद बस को लेकर फरार हो गए. बताया जा रहा है कि रास्ते में एक ढाबे पर बस को रोका भी गया. इस दौरान सवारियों के पैसे वापस किए गए और उन्हें खाना भी खिलाया गया. हालांकि बस के बारे में अभी तक कोई जानकारी प्राप्त नहीं हुई है. बस को ले जाने वालों ने एत्मादपुर क्षेत्र में चालक को उतार दिया. उसके बाद चालक ने मलपुरा थाने पहुंच कर मामले की सूचना दी. घटना की जानकारी के बाद पुलिस विभाग में हड़कंप मच गया है. बस हाईजैक करने वाले बदमाशों की तलाश की जा रही है और पूरे जिले में पुलिस को अलर्ट किया गया है.


2030 तक शहरी क्षेत्रों में रहेगी भारत की 40 प्रतिशत आबादी : केंद्रीय मंत्री, हरदीप सिंह पुरी

बताया जा रहा है कि जाइलो गाड़ी में सवार होकर आए लोगों ने पहले बस से ओवरटेक किया और उसके बाद बस को रुकवा लिया. इसके बाद वह बस में सवार हो गए बस को कुबेरपुर तक लेकर पहुंच गए. इसके बाद चालक को हाईवे पर उतारकर बस को सवारियों समेत ले गए. तड़के चालक ने मलपुरा थाने में जाकर सूचना दी. जानकारी के मुताबिक, ग्वालियर के डबरा निवासी रमेश स्लीपर बस में 34 सवारी लेकर मंगलवार शाम को गुरुग्राम से मध्य प्रदेश के पन्ना में अमानगंज के लिए निकला था. जब वह आगरा से पहले दक्षिणी बाइपास के रायभा टोल प्लाजा के पास पहुंचे.

Video: 71 साल के हार्ट पेशेंट राष्‍ट्रपति ने देखा समुद्र में डूब रही लड़कियां, जान पर खेलकर बचाई जिंदगी

वहां उन्हें दो जाइलो में सवार 8-9 युवक ने बस का पीछा किया. उन्होंने प्लाजा पर ही खुद को फाइनेंसकर्मी बताकर बस को रोक लिया. चालक से बस से नीचे उतरने को कह रहे थे. मगर, जिरह के बाद चालक वहां से बस को लेकर आगे चल दिया. जाइलो गाड़ी सवार बस का पीछा करते रहे. मलपुरा क्षेत्र में न्यू दक्षिणी बाइपास पर जाइलो गाड़ी से बस को ओवरटेक करके रोक लिया. चालक और परिचालक को जबरन बस से नीचे उतारकर अपनी गाड़ी में बैठा लिया.

COVID-19 Updates: दुनियाभर में अब तक 7.84 लाख से ज्यादा लोगों की मौत, दो करोड 23 लाख संक्रमित

बस में चार साथी बैठ गए और खुद ही बस को चलाने लगे. चालक के मुताबिक, यहां से वे बस को ग्वालियर रोड पर उतारकर सैंया ले गए. सैंया से फतेहाबाद होते हुए लखनऊ एक्सप्रेस वे पर पहुंचे. यहां एक्सप्रेस वे के नीचे स्थित ढाबे पर खाना खाया. परिचालक से सवारियों के रुपये वापस कराए और सवारियों समेत बस लेकर फिर चल दिए. चालक और परिचालक को दिल्ली-कानपुर हाईवे पर कुबेरपुर के पास छोड़ गए.

38 PSU ने पीएम केयर फंड में दान दिए 2,105 करोड़ रुपये, जानिए किसने, कितना दान किया

First published: 19 August 2020, 10:55 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी