Home » उत्तर प्रदेश » Akhilesh Yadav meets Mayawati after wins SP phulpur gorakhpur up bypoll 2018,bjp,bsp,mayawati,yogi
 

यूपी उपचुनाव में जीत के बाद मायावती से मिले अखिलेश, 1 घंटे तक चली मुलाकात

कैच ब्यूरो | Updated on: 14 March 2018, 21:47 IST

समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने यूपी उपचुनाव में जीत के बसपा सुप्रीमो मायावती से मुलाकात की. लखनऊ में ये मुलाकात करीब एक घंटे चली. बुधवार को गोरखपुर और फूलपुर लोकसभा सीट पर समाजवादी पार्टी ने भाजपा को बीएसपी की मदद से जबरदस्त पटखनी दी. प्रेस कॉन्फ्रेंस के बाद अखिलेश यादव मायावती से मिलने के लिए निकले. इस मुलाकात के लिए बसपा सुप्रीमो मायावती के घर से एक गाड़ी उनकी अगवानी के लिए भी पहुंची.

भाजपा के लिए ये चुनाव खासे अहम थे. क्योंकि ये दोनों सीटें यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ और डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य के संसदीय क्षेत्र थे. राज्य में भाजपा की सत्ता आने के बाद ये दोनों सूबे की बागडोर संभाल रहे हैं. इसी वजह से योगी आदित्यनाथ ने गोरखपुर और केशव प्रसाद मौर्य ने फूलपूर लोकसभा सीट से इस्तीफा दिया था. लेकिन भाजपा उपचुनाव में दोनों सीटें बचाने में नाकाम रही.

गोरखपुर और फूलपुर लोकसभा सीट पर भारी जीत के बाद समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने बुधवार शाम को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर की. इस प्रेस कॉन्फ्रेंस में यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश ने मायावती को शुक्रिया कहा. 

अखिलेश यादव ने भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा, "मैं दोनों लोकसभा क्षेत्र की जनता का धन्यवाद देना चाहता हूं. सबसे पहले बसपा प्रमुख मायावती जी का भी धन्यवाद देता हूं, उनकी पार्टी के समर्थन के कारण ही इन चुनावों में जीत हासिल हुई है. उनके अलावा जितनी भी पार्टियों ने समर्थन किया है, उनका भी शुक्रिया करता हूं."

 

अखिलेश यादव ने यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ पर निशाना साधते हुअ कहा, "सदन में मुख्यमंत्री योगी ने कहा था, मैं हिंदू हूं ईद नहीं मनाता हूं. मुझे और बसपा प्रमुख को सांप-छछुंदर का गठबंधन बताया गया. समाजवादी पार्टी को औरंगजेब की पार्टी बताया गया था. ये एक बड़ा संदेश है. बीजेपी ने जो भी वादे किए थे, उनमें से एक भी वादे पर खरे नहीं उतरे हैं. आज की जीत सामाजिक न्याय की जीत है. सपा प्रमुख ने कहा कि बीजेपी देश का नुकसान कर रही है. राष्ट्रवाद के नाम पर जनता को धोखा दिया जा रहा है."

गौरतलब है कि बीएसपी प्रमुख मायावती ने उपचुनावों में विपक्ष के सबसे मजबूत उम्मीदवार का समर्थन किया था. उन्होंने अपील की थी कि जो भी उम्मीदवार भाजपा को हरा सके उसे वोट दें. सुप्रीमो ने कहा था कि बसपा उपचुनाव नहीं लड़ेगी पर भाजपा को हराने के लिए मजबूत विपक्ष को समर्थन देगी. इसके बदले में सपा सहित पूरे विपक्ष को राज्यसभा चुनाव में बसपा का समर्थन करना होगा. बदले में बसपा मध्य प्रदेश में कांग्रेस का समर्थन करेगी.

गोरखपुर उपचुनाव में समाजवादी पार्टी के उम्मीदवार प्रवीण निषाद ने बीजेपी के उपेंद्र शुक्ला को 21,881 मतों के बड़े अंतर से हराया. गोरखपुर के जिलाधिकारी राजीव रौतेला ने बताया कि  सपा के प्रत्याशी को कुल 4,56,513 वोट मिले हैं, जबकि बीजेपी के उपेंद्र शुक्ला को 4,34,632 वोट मिले.

फूलपुर लोकसभा सीट पर सपा को बड़ी जीत मिली. सपा के नागेंद्र प्रताप सिंह ने ये उपचुनाव 56,613 वोटों से भाजपा के प्रत्याशी को हराया.  कौशलेंद्र सिंह पटेल भाजपा के प्रत्याशी थे.

First published: 14 March 2018, 21:47 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी