Home » उत्तर प्रदेश » Aligarh: AMU Professor D Murthy dies at university hospital, authorities couldn't arrange ambulance for over 6 hours
 

एएमयू के अस्पताल में तड़पते रहे प्रोफेसर मूर्ति, 6 घंटे बाद भी एंबुलेंस नहीं पहुंचने से हुई मौत

कैच ब्यूरो | Updated on: 11 February 2017, 5:47 IST
(एएनआई)

अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी कैंपस में बड़ी लापरवाही का मामला सामने आया है. यूनिवर्सिटी कैंपस के अस्पताल में इलाज में देरी होने से विश्वविद्यालय के ही प्रोफेसर डी मूर्ति की मौत हो गई.

हैरानी की बात यह है कि इतनी बड़ी अंधेरगर्दी एएमयू के ही अस्पताल में हुई, जहां तबीयत खराब होने के बाद प्रोफेसर डी मूर्ति को लाया गया था. डॉक्टर डी मूर्ति एएमयू के डिपार्टमेंट ऑफ मॉडर्न इंडियन लैंग्वेजेज में तमिल भाषा के प्रोफेसर थे.

प्रोफेसर की यूनिवर्सिटी कैंपस में ही मौत के बाद अस्पताल प्रशासन कठघरे में है. सर्जन डॉक्टर मोहम्मद असलम का कहना है, "प्रोफेसर मूर्ति को कैंसर था और वह वेंटिलेटर पर थे. सर्जरी के बाद उनकी हालत बिगड़ गई थी. जिसके बाद उन्हें दिल्ली के अस्पताल में इलाज के लिए रेफर किया गया था."

वहीं प्रोफेसर मूर्ति के मित्र और यूनिवर्सिटी के ही तेलुगु भाषा के प्रोफेसर शेख मस्तान का कहना है, "सही समय पर एंबुलेंस का इंतजाम नहीं हो सका. सीएमओ और डॉक्टर के बीच कोई कोऑर्डिनेशन नहीं था."

अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के प्रवक्ता ने इस पूरे मामले पर सफाई देते हुए कहा, "मामले की जांच के लिए एक विशेष टीम बनाई गई है. जिसकी भी गलती पाई जाएगी उसे सजा मिलेगी. हम जांच में किसी तरह की कोताही नहीं बरतेंगे."

First published: 26 October 2016, 10:37 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी