Home » उत्तर प्रदेश » Ayodhya: Mahant Paramhans Das is on hunger strike for last five days seeking construction of Ram Temple
 

राम मंदिर निर्माण की मांग तेज, भूख-हड़ताल पर बैठे महंत परमहंस को मिला किन्नरों का साथ

कैच ब्यूरो | Updated on: 5 October 2018, 13:42 IST
(file photo )

साल 2019 लोकसभा चुनाव का समय जैसे-जैसे पास आता जा रहा है. वैसे-वैसे राम मंदिर निर्माण की मांग तेज होती जा रही है. राम मंदिर निर्माण को लेकर अयोध्या में सरगर्मियां बढ़ती ही जा रही हैं. बीते 1 अक्टूबर से अयोध्या में महंत परमहंस दास राम मंदिर निर्माण की मांग को लेकर भूख हड़ताल पर बैठे हुए हैं. महंत परमहंस दास के समर्थन में अयोध्या के साधु संत खड़े हुए हैं. वहीं अब उनको मुस्लिम समाज के लोगों का भी साथ मिल रहा है. किन्नर समाज के लोग भी संत परमहंस के समर्थन में खड़े आ गए हैं.

मीडिया खबरों के मुताबिक, एक अक्टूबर से आमरण अनशन पर बैठे महंत परमहंस दास राम मंदिर का निर्माण और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अयोध्या आकर रामलला के दर्शन की मांग कर रहें हैं. परमहंस को भूख हड़ताल पर बैठे हुए पांच दिन हो गए हैं. अब उनको समर्थन भी मिलना शुरू हो गया है. शुक्रवार को प्रदेशभर से आए किन्नरों ने संत राम परमहंस दास से मुलाकात की. इस दौरान उन्होंने कहा कि वो इस अनशन में उनके साथ हैं. इसके अलावा अयोध्या के संतों का भी परमहंस को समर्थन है.

परमहंस दास का कहना है कि सभी मुसलमान भी राम मंदिर निर्माण के पक्ष में है. वो भी चाहते हैं कि राम मंदिर का निर्माण हो. मुस्लिमों से हमारी कोई लड़ाई नहीं है. हमको तो बस अयोध्या में राम मंदिर चाहिए. राम जन्मभूमि अयोध्या के अलावा और कहीं नहीं हो सकती है. राम मंदिर के निर्माण में मुस्लिम भाईयों का साथ चाहिए. इसका संदेश पूरी दुनिया में जाएंगा.

ये भी पढ़ें-  अयोध्या में सरयू के तट पर गूंजेगी क़ुरान, RSS करवाने का रहा है मौलानाओं भव्य आयोजन

First published: 5 October 2018, 13:42 IST
 
अगली कहानी