Home » उत्तर प्रदेश » Ayodhya: Sri Ram Raj Tilak done by UP CM Yogi Adityanath in the bank of Sarayu with 2 lakh lamps
 

अयोध्याः त्रेतायुग के बाद कलयुग में सीएम योगी ने मनाई भव्य और दिव्य दिवाली

कैच ब्यूरो | Updated on: 18 October 2017, 20:19 IST

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार को अयोध्या में सरयू तट के किनारे भगवान श्री राम का राजतिलक किया. अयोध्या की दिव्य दिवाली के बीच सरयू नदी के तट को पौने दो दीयों से रोशन करने के साथ ही अद्भुत लेजर लाइट शो के जरिये रामलीला दिखाई गई. 

कहा जा रहा है कि त्रेतायुग में जब भगवान श्रीराम 14 वर्ष के वनवास और रावण वध के बाद अयोध्या वापस लौटे थे, तब जोरदार रोशनी से उनका स्वागत किया गया था. पूरे अयोध्या को दीयों की रोशनी से जगमग किया गया था. और अब कलयुग में अभी तक ऐसी दीपावली नहीं मनीं, जिसमें एक साथ लाखों दीये जगमगा रहे हों.

वहीं, प्रदेश सरकार के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ अयोध्या के संतों ने हैरिटेज वॉक के जरिये अयोध्या की संस्कृति और परंपरा को बेहद करीब से देखा.

श्री राम राज्याभिषेक कार्यक्रम की पहली कड़ी में धार्मिक नगरी अयोध्या के किनारे बहने वाली सरयू नदी के तट पर बने अयोध्या के पौराणिक मंदिरों में दर्शन और उनके ऐतिहासिक महत्व को जानने के लिए हैरिटेज वॉक के जरिये अयोध्या की पौराणिकता पर बुद्धिजीवियों और अयोध्या के संतों ने प्रकाश डाला.

इसके बाद सीएम योगी आदित्यनाथ ने शाम को मां सरयू की आरती उतारी. इस मौके पर भव्य दीपोत्सव का आयोजन किया गया. इसमें फैजाबाद के डॉ. राम मनोहर लोहिया अवध विश्वविद्यालय के संयोजन में सरयू तट के किनारे स्थित राम की पैड़ी परिसर में एक साथ दो लाख दीपक जलाने का वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाने की कोशिश की गई.

इसके लिए स्कूली छात्र छात्राओं ने अपनी पूरी जान लगा दी, हालांकि यह रिकॉर्ड बना या नहीं इसका निर्धारण गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड की टीम को ही करना है. बुधवार शाम राम नगरी अयोध्या भव्य रंग रूप में नजर आई जिसकी कल्पना न ही अयोध्या के लोगों ने की थी और न ही देश के अन्य राज्यों के लोगों ने की थी.

बंगाल के कलाकारों द्वारा सजाए गए सरयू नदी के तट पर एलईडी लाइट की झिलमिल रोशनी दिखी. गगनचुंबी द्वारों से गुजरते हुए अपने पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के तहत मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सरयू मां की आरती उतारी.

सरयू तट के किनारे स्थित राम की पैड़ी परिसर में वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाने को लेकर 2 लाख दीपक जलाने के लिए हज़ारों की तादाद में लोगों ने परिश्रम किया. इस मौके पर राम की पैड़ी परिसर में लेज़र लाइट के जरिये रामलीला का प्रस्तुतिकरण किया गया. 

पैड़ी के अविरल जल में लेज़र लाइट का ये शो देखने के लिए लाखों की संख्या में लोग जुटे रहे. अयोध्या के इतिहास में ये पहली बार ऐसा मौका है जब इतने बड़े पैमाने पर भगवान श्री राम के राज्याभिषेक कार्यक्रम का आयोजन किया गया है. इसमें देश भर से कलाकारों को आमंत्रित किया गया है.

इस पूरे कार्यक्रम की खास बात यह रही है कि इस आयोजन में आम जनता को शामिल होने का पूरा मौका मिला और लाखों की तादाद में श्रद्धालु और अयोध्यावासी इस ऐतिहासिक कार्यक्रम के गवाह बने.

First published: 18 October 2017, 20:19 IST
 
अगली कहानी