Home » उत्तर प्रदेश » Babri demolition accused Ram Vilas Vedanti said Ready to be hanged for Ram Lala
 

बाबरी के आरोपी राम विलास वेदांती बोले- रामलला के लिए फांसी पर लटकने को तैयार

कैच ब्यूरो | Updated on: 22 April 2017, 12:48 IST
(एएनआई)

पूर्व भाजपा सांसद और विश्व हिंदू परिषद के राम मंदिर अभियान से लंबे अरसे से जुड़े राम विलास वेदांती ने लगातार दूसरे दिन बाबरी मस्जिद मुद्दे पर बयान दिया है. बाबरी मस्जिद विध्वंस मामले में आरोपी राम विलास वेदांती ने कहा है कि रामलला के लिए वे फांसी पर लटकने को भी तैयार हैं.

वेदांती ने इससे पहले कहा था कि उनके ही आदेश पर अयोध्या में छह दिसंबर 1992 को कारसेवकों ने बाबरी मस्जिद को गिराया था. वेदांती ने राम मंदिर मुद्दे पर कहा, "मैंने कहा कि मैंने ढांचा तुड़वाया और लाखों कारसेवकों ने मिलकर ढांचे को तोड़ा. रामलला के लिए चाहे जेल जाना हो, फांसी पे लटकना हो हम तैयार हैं. लेकिन मैं झूठ बोलने को तैयार नहीं हूं."

वेदांती पर भी आपराधिक साजिश का मुकदमा

गौरतलब है कि 19 अप्रैल को बाबरी मस्जिद विध्वंस मामले में सुप्रीम कोर्ट ने आदेश दिया है कि भाजपा के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी, उमा भारती, विनय कटियार समेत 13 लोगों पर आपराधिक साजिश का मुकदमा चलाया जाए. इस मामले में राजस्थान के राज्यपाल कल्याण सिंह को पद पर बने रहने तक मुकदमे से छूट दी गई है. 

राम विलास वेदांती भी उन 13 लोगों में शामिल हैं, जिन पर आपराधिक साजिश के तहत केस चलाया जाएगा. इसके अलावा साध्वी ऋतंभरा, महंत धर्मदास और चंपत राय बंसल भी इस मामले में आरोपी हैं. सुप्रीम कोर्ट ने अपने आदेश में कहा है कि चार हफ्ते के अंदर लखनऊ की स्पेशल कोर्ट में इस मामले की सुनवाई शुरू की जाए. रायबरेली कोर्ट में चल रहा केस भी अब लखनऊ की अदालत में ही चलेगा.

बाबरी मामले में कुल 21 आरोपी बनाए गए थे. इनमें से अशोक सिंघल, गिरिराज किशोर, विष्णु हरि डालमिया, रामचंद्र दास परमहंस और बाल ठाकरे समेत आठ आरोपियों की मौत हो चुकी है. लिहाजा 13 अभियुक्तों के खिलाफ मुकदमे में धारा 120 (बी) को भी जोड़ा जाएगा. 

First published: 22 April 2017, 12:44 IST
 
अगली कहानी