Home » उत्तर प्रदेश » Bulandshahr Mob Violence Armyman Jitu Fauji Arrested and STF Custody Key Suspect In Police Inspector Subodh Singh
 

बुलंदशहर हिंसा: इंस्पेक्टर सुबोध की हत्या का आरोपी आर्मी जवान जीतू गिरफ्तार

कैच ब्यूरो | Updated on: 9 December 2018, 8:29 IST

बुलंदशहर में बीते सोमवार को गोकशी के शक में भड़की हिंसा के दौरान मारे गए इंस्पेक्टर सुबोध सिंह की हत्या के मुख्य आरोपी जितेंद्र मलिक उर्फ जीतू फौजी को गिरफ्तार कर लिया गया है. जानकारी के मुताबिक जीतू को सेना ने शनिवार देर रात मेरठ में यूपी एसटीएफ को सौंप दिया. आरोपी जीतू को आज बुलंदशहर कोर्ट में पेश किया जाएगा.

वहीं एसएसपी अभिषेक सिंह ने कहा कि, आरोपी जीतू ने कबूल कर लिया है कि जब भीड़ इकट्ठा हुई तो उस वक्त वो वहां मौजूद था, हालांकि अभी ये साफ नहीं हुआ कि इंस्पेक्टर सुबोध को उसने ही गोली मारी. वहीं पूछताछ में जीतू ने बताया कि वो गांववालों के साथ वहां गया था, लेकिन पुलिस पर पथराव नहीं किया.

बता दें कि 3 दिसंबर को बुलंदशहर में गोकशी के शक के बाद हिंसा भड़क गई थी. इस हिंसा में पुलिस इंस्पेक्टर सुबोध कुमार की गोली लगने से मौत हो गई थी. इस घटना के कई वीडियो भी सामने आए. जिनमें एक वीडियो में जम्मू-कश्मीर के सोपोर में तैनात 22 राजपूत राइफल्स का जवान जितेंद्र मलिक उर्फ जीतू फौजी भी भीड़ के साथ दिखाई दे रहा है. जीतू पर आरोप है कि उसी ने इंस्पेक्टर सुबोध को गोली मारी थी. उसके बाद पुलिस ने फौजी के खिलाफ नामजद एफआईआर दर्ज की थी.

उसके बादग पुलिस ने जीतू फौजी के खिलाफ गैरजमानती वारंट जारी करवाया और यूपी एसटीएफ की दो टीम 6 दिसंबर को जम्मू-कश्मीर पहुंची. वहीं बुलंदशहर में मौजूद यूपी एसटीएफ के अधिकारियों ने आर्मी के अधिकारियों से संपर्क साधा और बुलंदशहर की घटना में जितेंद्र फौजी के शामिल होने के बारे में बताया और पुलिस को हैंडओवर करने को कहा.

वहीं यूपी एसटीएफ के अधिकारियों ने बताया कि आर्मी के सीनियर अफसर से जब संपर्क किया तो, उसी वक्त आर्मी के बैरक में जीतू फौजी को हिरासत में रखा गया. लेकिन आर्मी के अफसरों ने जम्मू-कश्मीर में जीतू फौजी को यूपी पुलिस को नहीं सौंपा.  दरअसल, घाटी में जवानों की हत्या के बाद से सेना काफी अलर्ट है, इसलिए आर्मी के अधिकारियों ने तय किया कि अधिकारी जीतू फौजी को लेकर यूपी जाएंगे और वहीं एसटीएफ को सौंपेंगे.

उसके बाद शनिवार सुबह सेना की एक टीम यूपी एसटीएफ की टीम के साथ मेरठ पहुंची जहां देर रात उसे यूपी पुलिस के हवाले कर दिया गया. जिसके बाद यूपी पुलिस ने जीतू फौजी को गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस पूछताछ करेगी कि क्या हिंसा वाले दिन जीतू ने ही इंस्पेक्टर सुबोध को गोली मारी थी.

बता दें कि बुलंदशहर हिंसा में मारे गए इंस्पेक्टर सुबोध सिंह की हत्या के आरोप में गिरफ्तार किया गया फौजी जीतू बुलंदशहर के ही महाव गांव का रहने वाला है. जब वहां हिंसा भड़की थी तब वो छुट्टी पर अपने गांव आया हुआ था. बता दें कि महाव गांव में ही गोवंश के अवशेष मिलने के बाद हंगामा हुआ था.

ये भी पढ़ें- घर बैठे आसानी से कमाई करने का डाक विभाग दे रहा है सुनहरा मौका, जानिए क्या है पूरी प्रक्रिया

 

First published: 9 December 2018, 8:11 IST
 
अगली कहानी