Home » उत्तर प्रदेश » CAA Protest Allahabad High Court issues notice to UP Government on Police Vandalism
 

CAA Protest : पुलिस की बर्बरता पर यूपी सरकार को इलाहाबाद हाईकोर्ट का नोटिस

कैच ब्यूरो | Updated on: 7 January 2020, 14:11 IST

CAA Protest : नागरिकता संशोधन अधिनियम (CAA) के विरोध में उत्तर प्रदेश के विभिन्न शहरों में पिछले दिनों जबरदस्त प्रदर्शन हुआ. उसके बाद शिकायतें आईं कि यूपी पुलिस (UP Police) प्रदर्शनकारियों (Protesters) के साथ बर्बरता की और उनकी लाठीचार्ज किया. जिसे लेकर इलाहाबाद हाईकोर्ट ने संज्ञान लिया है. हाईकोर्ट ने इसे लेकर योगी सरकार को नोटिस जारी किया है.

इलाहाबाद हाईकोर्ट (Allahabad High Court) ने यूपी सरकार (UP Government) से समाचार पत्रों (News Papers) में छप रही ऐसी घटनाओं पर जवाब मांगा है. मुंबई के एक अधिवक्ता अमित कुमार द्वारा ईमेल के जरिए भेजे गए पत्र पर इलाहाबाद हाईकोर्ट ने स्वत संज्ञान लिया है. इलाहाबाद हाईकोर्ट के मुख्य न्यायाधीश गोविंद माथुर और न्यायमूर्ति विवेक वर्मा की पीठ ने इस मामले पर सुनवाई के लिए 16 जनवरी की तिथि नियत की है.

अधिवक्ता अजय कुमार द्वारा भेजे गए ईमेल में न्यूयॉर्क टाइम्स और द टेलीग्राफ में प्रकाशित समाचारों का हवाला दिया है. जिसमें यूपी पुलिस द्वारा आंदोलनकारियों पर बर्बर बर्ताव करने का आरोप लगाया गया है. इस पत्र में कहा गया है कि देश की छवि पूरी दुनिया में खराब हो रही है. इसके अलावा इस पत्र में इंडियन एक्सप्रेस में प्रकाशित समाचार जिसमें मुजफ्फरनगर के एक मदरसे में बच्चों की निर्मम पिटाई का हवाला दिया गया है.

पीठ ने हाइकोर्ट के अधिवक्त फरमान नकवी और रमेश कुमार यादव को याचिका में न्याय मित्र नियुक्त किया है हाईकोर्ट की रजिस्ट्री को निर्देश दिया है कि सभी संबंधित दस्तावेज न्याय मित्रों को उपलब्ध करा दिये जाएं. योगी सरकार को जारी किए गए इस नोटिस पर अब 16 जनवरी को अगली सुनवाई होगी.

जम्मू-कश्मीर मेंं सुरक्षाबलों को मिली बड़ी कामयाबी, एनकाउंटर में एक आतंकी को मार गिराया

कल बैंक कर्मचारी हैं हड़ताल पर, जानिए किन-किन बैंकों के कामकाज पर पड़ेगा असर

Weather Updates: राजधानी दिल्ली में एक बार फिर लौटी ठंडक, लुढ़क सकता है पारा

First published: 7 January 2020, 14:11 IST
 
अगली कहानी