Home » उत्तर प्रदेश » Chairman of Uttar Pradesh Subordinate Services Selection Commission Raj Kishore Yadav submits his resignation from the post
 

UPSSSC के चेयरमैन राज किशोर यादव ने सौंपा इस्तीफ़ा

कैच ब्यूरो | Updated on: 5 April 2017, 10:44 IST

यूपी में योगी आदित्यनाथ की सरकार बनने के बाद से ब्यूरोक्रेसी में हड़कंप देखा जा रहा है. उत्तर प्रदेश अधीनस्थ सेवा चयन आयोग यानी यूपीएसएसएससी के चेयरमैन राज किशोर यादव ने इस्तीफ़ा दे दिया है.

यूपीएसएससी चेयरमैन राज किशोर यादव ने राज्य के मुख्य सचिव को अपना त्यागपत्र सौंपा है. यूपीएसएसएससी द्वारा 11 हजार पदों पर होने वाली भर्तियं के लिए इंटरव्यू पर पहले ही रोक लगा दी गई थी. 19 मार्च को बीजेपी सरकार के गठन के बाद ही राज्यपाल राम नाईक ने सभी न्यू टेंडर भर्ती और इंटरव्यू पर रोक लगा दी थी. 

11 हजार भर्तियों के इंटरव्यू पर रोक

इंटरव्यू पर रोक के खिलाफ सोमवार को प्रदेशभर से आए अभ्यर्थियों ने मुख्यमंत्री आवास पांच कालिदास मार्ग के बाहर हंगामा किया था. अधीनस्थ सेवा चयन बोर्ड ने 27 मार्च से 10 अप्रैल तक 3 तिथियों में इंटरव्यू लेने की तैयारी की थी.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी चुनावी जनसभाओं में कहते रहे हैं कि बाबू और चपरासी की नौकरी के लिए इंटरव्यू भ्रष्टाचार का माध्यम है और बीजेपी की सरकार आते ही ये इंटरव्यू बंद कर दिए जाएंगे.

इसके साथ ही बीजेपी के एमएलसी देवेंद्र प्रताप सिंह ने सीएम योगी आदित्यनाथ को पत्र लिखकर लोक सेवा आयोग में पिछली सरकार के दौरान हुए चयन की जांच करवाने की मांग की है. सीएम ने यूपी लोकसेवा आयोग के अध्यक्ष अनिरुद्ध यादव को इसके बाद तलब किया था. आयोग के पिछले अध्यक्ष अनिल यादव के कार्यकाल में हुई नियुक्तियों में एक जाति विशेष को तरजीह देने का आरोप है.

First published: 5 April 2017, 10:44 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी