Home » उत्तर प्रदेश » chhattisgarh election: raj babbar compares naxals to revolutionaries, says be resolved through conversation
 

कांग्रेस नेता राज बब्बर ने क्रांति से की नक्सली हमलों की तुलना, कहा- गोलियों से नहीं होगा फैसला

कैच ब्यूरो | Updated on: 4 November 2018, 17:12 IST
(file photo )

छत्तीसगढ़ में विधानसभा चुनाव को लेकर प्रचार जोरों पर हैं.  चुनाव से पहले  उत्तर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष राज बब्बर ने नक्सल समस्या को लेकर एक विवादित बयान दिया है. जिसको लेकर सिसायत गरमा सकती है. राज बब्बर ने नक्सल समस्या को क्रांति बताया है. उन्होंने कहा है कि 'वे लोग क्रांति के लिए निकले हैं. उन्हें रोक नहीं सकते हैं.

मीडिया खबरों के मुताबिक, यूपी कांग्रेस अध्यक्ष राज बब्बर ने नक्सल समस्या को लेकर पूछे गए सवाल पर मीडिया से बात करते हुए कहा कि गोलियों से फैसले नहीं किए जाते हैं. इसके लिए बातचीत होना जरूरी है.. उनकी बात को सुनना होगा. जो लोग क्रांति के लिए निकले हैं, उनको डराकर रोका नहीं जा सकता है. ये मेरी राय है. जिसके बारे में मैं अपनी पार्टी को भी बता चुका हूं.

उन्होंने कहा कि इस समस्या का हल बंदूक से नहीं निकल सकता है. ना इधर की बंदूक से हल निकलेगा ना उधर की. इस समस्या का समाधान केवल बातचीत से ही निकलेगा. उन्होंने कहा कि 'नक्सल मूवमेंट जो है वो अधिकारों को लेकर शुरू होता है. जिसको लेकर हमें लोगों के साथ बैठना होगा. आज जो लोग रास्ते से भटक गए हैं उनको वापस लाना होगा.

आपको बता दें कि छत्तीसगढ़ में हाल ही में नक्सलियों ने हमले को अंजाम दिया था. जिसमें दो पुलिसकर्मियों और एक दूरदर्शन के कैमरामैन की मौत हो गई थी. नक्सलियों ने घात लगाकार पुलिस के गश्ती दल पर हमला कर दिया. हालांकि बाद में नक्लियों की तरफ से सफाई देते हुए कहा गया था कि उनका इरादा मीडिया को निशाना बनाना नहीं था. 'दूरदर्शन टीम भी पुलिस वालों की गाड़ी पर बैठकर एम्बुश में साथ आई थी. जिसके बारे में हमको जानकारी नहीं थी. पत्रकार हमारे दुश्मन नही बल्कि मित्र हैं.'

ये भी पढ़ें-  ABP News-C voter survey: राजस्थान, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ से होगा भाजपा का सफाया, कांग्रेस करेगी राज

 

First published: 4 November 2018, 17:12 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी