Home » उत्तर प्रदेश » Corona Virus in UP: Cabinet Minister Siddharth Nath Singh said there in no situation like lockdown in UP
 

कोरोना पर हाईकोर्ट के सुझाव के बाद योगी सरकार की सफाई, कहा- राज्य में हालात बेहतर, लॉकडाउन की जरूरत नहीं

कैच ब्यूरो | Updated on: 27 August 2020, 7:57 IST

उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस (Corona Virus) के बढ़ते मामलों के बीच योगी सरकार (Yogi Government) ने साफ कर दिया कि राज्य में अब लॉकडाउन (Lockdown) नहीं लगाया जाएगा. बुधवार शाम तक यूपी में एक बार फिर से लॉकडाउन लगाने की बात होती रही. लेकिन यूपी सरकार के प्रवक्ता और कैबिनेट मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह (Siddharth Nath Singh) ने साफ कर दिया है प्रदेश में लॉकडाउन जैसे हालात नहीं हैं. राज्य की स्थिति अन्य राज्यों की तुलना में काफी अच्छी है. उन्होंने कहा कि आबादी के लिहाज से पूरे देश में कोरोना मृत्यु दर सबसे कम उत्तर प्रदेश में है.

बता दें कि इससे पहले मंगलवार को राज्य में कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच इलाहाबाद हाईकोर्ट (Allahabad High Court) ने टिप्पणी करते हुए कहा था कि उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में 15 दिनों के लिए लॉकडाउन लगाने की जरूरत है. इलाहाबाद उच्च न्यायालय के न्यायाधीश न्यायमूर्ति सिद्धार्थ वर्मा और न्यायमूर्ति अजीत कुमार की खंडपीठ ने कहा था कि, “जब हमें रोजी-रोटी और जीवन के बीच संतुलन बनाना होता है तो जीवन का रहना जरूरी है. जीने के लिए भोजन जरूरी है, न कि भोजन के लिए जीवन. हमें नहीं लगता कि एक पखवाड़े के लिए लॉकडाउन लगाने से प्रदेश की अर्थव्यवस्था ऐसी स्थिति में पहुंच जाएगी कि लोग भूखे मरने लगेंगे.”


Coronavirus Update : देश में आये COVID-19 के 67,151 नए मामले, दिल्ली में संक्रमण दर 10 प्रतिशत से नीचे गई

हाईकोर्ट की इस टिप्पणी पर मंत्री ने कहा कि, “मैंने उच्च न्यायालय का आदेश अभी पढ़ा नहीं है. अगर न्यायालय ने ऐसा कुछ कहा है तो सरकार उस पर विचार करेगी.” प्रदेश में कानून व्यवस्था को लेकर मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ने कहा कि नेशनल क्राइम रिकॉर्ड ब्यूरो के मुताबिक, उत्तर प्रदेश में डकैती और बलात्कार जैसे अपराधों में पिछले तीन सालों में काफी कमी आई है. कानून व्यवस्था पहले से बेहतर हुई है. उन्होंने बताया कि पाल समुदाय के जीवन में बदलाव के लिए गांजा गांव में ऊन प्रोसेसिंग यूनिट स्थापित हो रहा है. प्रयागराज में पाल समुदाय से जुड़े लगभग दो लाख लोग हैं जो इस यूनिट से लाभान्वित होंगे.

SSR Case: रिया चक्रवर्ती की बढ़ी मुसीबत, नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो ने कई धाराओं में दर्ज किया केस

बता दें कि उत्तर प्रदेश में अब तक कोरोना के एक लाख 97 मामले सामने आ चुके हैं. जिनमें से 3,059 लोगों की मौत हुई है. वहीं एक लाख 45 हजार लोग इलाज के बाद ठीक हो चुके हैं. पूरे भारत में कोरोना संक्रमितों की संख्या 33 लाख 7 हजार 749 हो गई है. जिनमें से 60,629 लोगों की मौत हो चुकी है. वहीं 25 लाख 23 हजार 443 मरीज इलाज के बाद ठीक भी हो चुके हैं. हालांकि भारत में अभी भी सात लाख 23 हजार 677 लोग कोरोना से अभी भी पीड़ित हैं.

पंजाब: विधानसभा सत्र से दो दिन पहले कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए 23 विधायक, मचा हड़कंप

First published: 27 August 2020, 7:57 IST
 
अगली कहानी