Home » उत्तर प्रदेश » Doctor Kafeel Khan help Nipah Victims in Kozhikode Kerala
 

केरल: गोरखपुर के डॉक्टर कफील खान निपाह पीड़ितों का करेंगे इलाज, CM विजयन ने जताई खुशी

कैच ब्यूरो | Updated on: 23 May 2018, 12:16 IST

केरल में निपाह वायरस की चपेट में आने से कई लोगों की जान चली गई. वहीं निपाह से पीड़ित मरीजों का इलाज कर रही एक नर्स भी इस की चपेट में आने से अपनी जान से हाथ धो बैठी है. इसी बीच कफील खान से केरल जाकर निपाह पीड़ितों का इलाज करने की इच्छा जाहिर की है. बता दें कि डॉक्टर कफील उन डॉक्टर्स में शामिल हैं जिन पर पिछले साल गोरखपुर के बीआरडी मेडिकल कॉलेज में ऑक्सीजन से बच्चों की मौत का आरोप है.

अब डॉक्टर कफील केरल के कोझीकोड में निपाह वायरस पीड़ितों का इलाज करेंगे. डॉक्टर कफील खान का कहना है कि उनके ठहरने की व्यवस्था केरल सरकार करेगी. डॉक्टर कफील ने कहा, "मुझे खुशी है कि वहां कार्य करने का मौका मिल रहा है.” बता दें कि बीआरडी मेडिकल कॉलेज में पिछले साल अगस्त में बड़ी संख्या में बच्चों की मौत के बाद डॉक्टर कफील खान को आठ महीने जेल में बिताने पड़े.

डॉक्टर कफील के मुताबिक जब वो जेल में थे तो केरल के लोगों ने सोशल मीडिया पर उन्हें समर्तन दिया था और जेल से निकलने के बाद वो तीन दिन तक केरल में रहे. बता दें कि डॉक्टर कफील को गोरखपुर के बीआरडी अस्पताल में ऑक्सीजन की कमी की वजह से बच्चों की मौत के मामले में गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया था. उनकी गिरफ्तारी काफी विवादों में रही थी.

बता दें कि डॉक्टर कफील ने केरल में निपाह पीड़ितों के इलाज करने की इच्छा जाहिर की थी. केरल के मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन ने डॉ. कफील को केरल आने का स्वागत किया. केरल सीएमओ ऑफिस ने खुद इस मामले में ट्वीट कर जानकारी दी.

 

बता दें कि गोरखपुर के बीआरडी मेडिकल कॉलेज में पिछले साल 10-11 अगस्त को ऑक्सीजन की कमी से 36 बच्चों की मौत हो गई थी. उसके बाद काफी बवाल हुआ था. तब डॉक्टर कफील की लोगों ने जमकर तारीफ की थी, लेकिन बाद में उन्हें एनआईसीयू प्रमुख के पद से हटा दिया गया था. उसके बाद उन्हें गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया.

ये भी पढ़ें- निपाह वायरस से मरने वाली नर्स ने पति के लिए छोड़ा भावुक खत, पढ़ेंगे तो भर आएंगी आंखें

First published: 23 May 2018, 12:16 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी