Home » उत्तर प्रदेश » Hardoi: Man carries his burn sister on his shoulder due to the unavailability of Ambulance
 

शर्मनाक: एंबुलेंस की आस में झुलसी बहन को कंधे पर रखकर भटकता रहा भाई

कैच ब्यूरो | Updated on: 21 June 2017, 16:56 IST

बेहतर स्वास्थ सेवाओं के नाम भले ही उत्तर प्रदेश में एंबुलेंस चलाई जा रही है, मगर इस सेवा की हक़ीक़त बार-बार शक के घेरे में आ रही है. नया मामला हरदोई का है, जहां एक शख़्स अपनी जली हुई बहन को लेकर भटकता रहा. वो अपनी बहन को इलाज के लिए लखनऊ लेकर जाना चाहता था, लेकिन ज़िले के सरकारी अस्पताल ने उसे एंबुलेंस मुहैया नहीं करवाई. बताया जाता है कि ज़िला अस्पताल प्रशासन ने उससे निजी वाहन किराए पर लेकर लखनऊ जाने के लिए कहा.

खाना बनाते वक़्त आग में झुलसने वाली महिला की शिनाख़्त गंगावती के रूप में हुई है. वह शहर कोतवाली इलाक़े की रहने वाली हैं. गंभीर रूप से झुलस गई गंगावती को घर वाले ज़िला अस्पताल ले गए. वहां मौजूद चिकित्सकों से गंगावती के भाई ने एंबुलेंस की मांग की, तो उनसे प्राइवेट वाहन लेने के लिए कहा गया.

इसके बाद गंगावती के भाई उन्हें उसी हालत में कंधे पर लादकर टैक्सी स्टैंड तक पहुंचे. फिर यहां से प्राइवेट वाहन लेकर लखनऊ गए. वहीं इस मामले में सीएमओ पीएन चतुर्वेदी का कहना है कि एंबुलेंस की मांग नहीं की गई थी, फिर भी वह इसकी जांच करवाएंगे.

First published: 21 June 2017, 16:56 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी