Home » उत्तर प्रदेश » In UP: Police inspector threaten Doctor in Moradabad
 

यूपी: मुरादाबाद में दरोगा ने की सरेआम गुंडई, डॉक्टर पर तानी पिस्टल

कैच ब्यूरो | Updated on: 8 May 2017, 12:22 IST
UP Police

मुरादाबाद में एक दरोगा ने एक डॉक्टर पर अपनी सरकारी पिस्टल तान दी. जानकारी के मुताबिक मुरादाबाद के सिविल लाइन थाना क्षेत्र के, रामगंगा विहार चौकी प्रभारी जितेंद्र सिंह ने नशा मुक्ति केंद्र के इंचार्ज डॉक्टर कंवलजीत सिंह पर अपनी सरकारी पिस्टल तान दी. चौकी प्रभारी की यह करतूत सीसीटीवी कैमरे में भी कैद हो गई है.

मामला चूंकि पुलिस महकमे का है, इसलिए जिले के आला अधिकारी कुछ भी बोलने से बच रहे हैं. हालांकि शनिवार देर रात आरोपी दरोगा जितेंद्र सिंह को एसएसपी मनोज तिवारी ने तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया. 

स्थानीय लोगों के मुताबिक जितेंद्र सिंह शराब के आदी हैं. एक साल पहले 'जीवन उदय' नामक नशा मुक्ति केंद्र में वे खुद भर्ती रह चुके हैं. जब ये ज्यादा नशा करते हैं, तो उनके परिवार वाले उन्हें नशा मुक्ति केंद्र में डालने की बात करते हैं. इसलिए उन्होंने सोचा कि क्यों न नशा मुक्ति केंद्र के इंचार्ज डॉक्टर कंवलजीत को ही खत्म कर दिया जाए.

चौकी इंचार्ज जितेंद्र सिंह शनिवार शाम 6 बजे नशे में धुत होकर दो अन्य पुलिसकर्मियों के साथ नशा मुक्ति केंद्र पहुंचे और केंद्र प्रभारी पर सरकारी पिस्टल निकाल कर तान दी. हालांकि दरोगा के साथ मौजूद पुलिसकर्मी उन्हें पिस्टल चलाने से रोकते भी दिखे. उनकी न सुनने पर एक सिपाही वहां से बाहर निकल गया.

उसी दौरान जितेंद्र सिंह ने डॉक्टर कंवलजीत के साथ उनके बेटे के सामने ही अभद्रता की. बताया जाता है कि आरोपी दरोगा ने कुछ अन्य मरीजों के साथ मारपीट भी की है. चौकी प्रभारी की यह सारी करतूत सीसीटीवी में कैद हो गई. डॉक्टर कंवलजीत ने पुलिस में शिकायत कर दी है, लेकिन उनका कहना है कि उन्हें पुलिस पर रत्ती भर भरोसा नहीं है.

बहरहाल, नशा मुक्ति केंद्र के प्रभारी इस हादसे के बाद काफी सहमे हुए हैं. एसएसपी ने आरोपी दरोगा को निलंबित कर दिया है. इसके साथ ही मामले की विभागीय जांच कराई जा रही है.

First published: 8 May 2017, 10:17 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी