Home » उत्तर प्रदेश » Iqbal Ansari Demand, PM Modi should lay the foundation stone of Ram temple in Ayodhya
 

इक़बाल अंसारी की मांग PM मोदी रखें अयोध्या में राम मंदिर की आधारशिला

कैच ब्यूरो | Updated on: 9 January 2020, 18:04 IST

सुप्रीम कोर्ट ने एक ऐतिहासिक फैसला सुनाते हुए अयोध्या की जमीन पर राम मंदिर के पक्ष में अपना फैसला दिया. अब दिगंबर अखाड़े के महंत सुरेशदास, बाबरी मस्जिद के पक्षकार इकबाल अंसारी का कहना है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने हाथों से रामलला के मंदिर की आधारशिला रखें. संतों का कहना है कि राम मंदिर का शिलान्यास उसी पत्थर से किया जाना चाहिए, जिसे 2002 में राम जन्मभूमि न्यास के प्रथम अध्यक्ष साकेतवासी परमहंस रामचंद्रदास ने प्रधानमंत्री के दूत IAS अधिकारी शत्रुघ्न सिंह सौंपा था.

महंत सुरेश दास साकेतवासी परमहंस के शिष्य हैं. वह अदालत में अपनी जगह रामलला की वकालत करते रहे हैं. उन्होंने मांग की है कि उस पत्थर का उपयोग मंदिर में किया जाना चाहिए, जिसे उनके गुरु ने 18 साल पहले मंदिर बनाने के इरादे से दान किया था. उन्होंने अपनी मांग में जोड़ा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मंदिर की आधारशिला रखने के लिए अयोध्या आएं. आचार्य सत्येन्द्रदास ने भी ऐसी ही इच्छा व्यक्त की है.

उन्होंने अपनी मांग में जोड़ा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मंदिर की आधारशिला रखने के लिए अयोध्या आएं. आचार्य सत्येन्द्रदास ने भी ऐसी ही इच्छा व्यक्त की है. एक अन्य रिपोर्ट के अनुसार श्रीरामजन्मभूमि न्यास के अध्यक्ष महंत नृत्यगोपाल दास का कहना है कि 20 जनवरी को प्रयागराज में होने जा रही केंद्रीय मार्गदर्शक मंडल की बैठक में राममंदिर निर्माण व ट्रस्ट पर चर्चा होगी.

वहीं बाबरी मस्जिद के पक्षकार इकबाल अंसारी का कहना है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अयोध्या में राम मंदिर निर्माण की आधारशिला रखें.

CAA-NRC के खिलाफ 3,000 किलोमीटर के मार्च पर निकले पूर्व केंद्रीय मंत्री यशवंत सिन्हा

First published: 9 January 2020, 18:04 IST
 
अगली कहानी