Home » उत्तर प्रदेश » Kairana migration issue: family wrote Makan bikau hai and leave the village
 

कैराना में फिर गरमाया पलायन का मुद्दा, 'मकान बिकाऊ है' लिखकर गांव छोड़ गया परिवार

कैच ब्यूरो | Updated on: 5 June 2018, 15:03 IST
(representative image)

यूपी के कैराना में एक बार फिर से पलायन का मुद्दा सामने आया है. यहां एक परिवार ने घर पर 'मकान बिकाऊ है' लिखकर गांव छोड़ दिया. खबर है कि हिंदू परिवार ने मुस्लिम परिवार से झगड़े के कारण गांव छोड़ा है. घटना शामली जिले के कैराना के झिंझाना थानाक्षेत्र की है.

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, झिंझाना थानाक्षेत्र के गांव केरटू में एक महिला अपने परिवार सहित मकान छोड़कर अपने मायके चली गई. उन्होंने मकान पर लिख दिया- 'यह मकान बिकाऊ है.'

महिला ने आरोप लगाया कि दूसरे समुदाय का परिवार उसे व उसके परिवार के साथ अक्सर मारपीट करता है, जिस कारण वह गांव से पलायन करके जा रही है. परिवार अपना सारा सामान एक गाड़ी में भरकर नम आंखों से करनाल चला गया और सैंकड़ों गांव वाले इस दौरान तमाशा देखते रहे.

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, केरटू से पलायन करने वाले परिवार का मुखिया सतपाल मंदबुद्धि है और उनके परिवार का भरण-पोषण रिश्तेदारों की मदद से होता है. सतपाल के तीन बच्चे हैं, दो बेटियों पूजा और शिवानी की शादी हो चुकी है और बेटा मयंक गांव में ही छठवीं कक्षा का छात्र है. सतपाल का गांव में जो मकान है वह उनकी पत्नी रेखा के मायके वालों ने बनाकर दिया है.

महिला के अनुसार, पड़ोस में रहने वाला नदीम का परिवार उसके साथ अक्सर मारपीट करता है. कुछ दिन पूर्व भी हैंडपंप से पानी भरने को लेकर विवाद होने पर उसके साथ मारपीट की गई. दो दिन पूर्व भी झगड़ा किया गया, जिसकी शिकायत पुलिस से की, लेकिन पुलिस ने कार्रवाई नहीं की.

पढ़ें- 2000 करोड़ के घोटाला मामले में फंसे शिल्पा शेट्टी के पति राज कुंद्रा, ED दफ्तर में हो रही गहन पूछताछ

महिला ने कहा कि रोज-रोज की मारपीट, गाली-गलौच और पुलिस के झिड़कने से वह तंग आ गए हैं. उन्होंने बताया कि उनके बेटे मयंक को झूठे केस में फंसाने की धमकी दी गई इससे वह डर गईं. रविवार 3 जून को रेखा ने अपने घर का सामान ट्रैक्टर में लादा और रोते-रोते करनाल चली गईं. गांव के सैकड़ों लोगों ने बेबस रेखा और उसके परिवार को जाते देखा, लेकिन किसी ने रोका नहीं. अब रेखा के दरवाजे पर लिखा है- 'यह मकान बिकाऊ है'

First published: 5 June 2018, 14:59 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी