Home » उत्तर प्रदेश » Kanpur Encounter Case: Vikash Dubey close Amar Dubey shot dead in an encounter in Hamirpur with STF
 

एनकाउंटर में मारा गया विकास दुबे का करीबी अमर दुबे, कानपुर हत्याकांड में था शामिल

कैच ब्यूरो | Updated on: 8 July 2020, 9:10 IST
(File Photo)

Kanpur Encounter Case: कानपुर (Kanpur) के बिकरू गांव (Bikaru Village) में डीएसपी (DSP) समेत आठ पुलिस वालों की हत्या के बाद फरार चल रहे विकास दुबे (Vikash Dubey) के करीबी अमर दुबे (Amar Dubey) को पुलिस ने एक एनकाउंटर (Encounter) में मार गिराया. बुधवार सुबह हमीरपुर (Hamirpur) के मौहादा इलाके (Mauhada Area) में एसटीएफ (STF) के साथ हुए एनकाउंटर में अमर दुबे मारा गया. इस बात की जानकारी उत्तर प्रदेश के अपर पुलिस महानिदेशक (कानून व्यवस्था) प्रशांत कुमार ने दी. उन्होंने बताया कि यूपी एसटीएफ और स्थानीय पुलिस के साथ हुई मुठभेड़ में अमर दुबे मारा गया है. वह कानपुर हत्याकांड में नामजद था और वांछित अभियुक्त था.

बता दें कि कानपुर के बिकरू गांव में आठ पुलिसकर्मियों की हत्या के बाद विकास दुबे फरार चल रहा है और पुलिस उसकी तलाश में जगह-जगह छापेमारी कर रही है. इससे पहले विकास दुबे मंगलवार को पुलिस को चकमा देकर फरार हो गया. यूपी पुलिस ने उसके ऊपर ढाई लाख रुपये का इनाम रखा है. दरअसल, मंगलवार को राष्ट्रीय राजमार्ग बड़खल चौक स्थित श्रीसासाराम ओयो गेस्ट हाउस में विकास और उसके गुर्गों के छिपे होने की सूचना मिली थी. क्राइम ब्रांच की टीम ने सीसीटीवी कैमरों की फुटेज भी खंगाली, जिसमें विकास दुबे जैसे दिखने वाले एक शख्स की फुटेज भी पुलिस के हाथ लगी.


कोरोना वायरस: हरियाणा के कर्मचारियों और पेंशनर्स को बड़ा झटका, सरकार ने DA को किया फ्रीज

सूत्रों के मुताबिक यूपी एसटीएफ ने विकास की तलाश में गुरुग्राम और उसके साथ लगने राजस्थान के इलाकों में भी छापे मारे और नाकेबंदी करवाई. क्राइम ब्रांच की टीम ने मंगलवार शाम श्रीसासाराम ओयो गेस्ट हाउस की घेराबंदी की. सूत्रों के मुताबिक, पुलिस के पहुंचने से पहले ही विकास दुबे अपने गुर्गों समेत फरार हो गया. प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक वहां गोली चलने की आवाज भी सुनी गई. इस पूरे मामले में फिलहाल पुलिस कुछ भी कहने से बच रही है. उधर विकास दुबे का साथ देने के आरोप में पूरा चौबेपुर थाना एसएसपी दिनेश कुमार पी ने लाइन हाजिर कर दिया. जिसमें 68 पुलिसकर्मी शामिल हैं. अब इन सभी के खिलाख जांच शुरु होगी. वहीं चौबेपुर थाने में नए पुलिसकर्मियों की तैनाती की गई है.

मास्क-सैनिटाइजर को आवश्यक वस्तु के दायरे से हटाया गया, अब मनमानी कीमत वसूल सकते हैं दुकानदार

भारतीय रेलवे की शानदार पहल, देश में पहली बार चलाई जाएगी सौर ऊर्जा से ट्रेन

एसएसपी के मुताबिक जांच में पाया गया कि बदमाश विकास दुबे के संपर्क में चौबेपुर थाने के सभी पुलिसकर्मी हैं. इसलिए सभी 13 दरोगा, 10 हेड कांस्टेबल, 45 कांस्टेबलों को लाइन हाजिर कर दिया गया है. प्रत्येक पुलिसकर्मी पर मुखबिरी के साथ विकास दुबे का साथ देने का आरोप है. बता दें कि निलंबित एसओ विनय तिवारी की विकास से दोस्ती थी. वहीं हलका इंचार्ज समेत हलके सिपाही उसके घर पर माथा टेकने जाते थे. सीडीआर से भी खुलासा हुआ था कि सभी लगातार विकास के संपर्क में रहते हैं. एसएसपी ने बताया कि सभी पुलिसकर्मियों के खिलाफ जांच की जा रही है. साथ ही सभी के मोबाइल जब्त कर लिए गए हैं और सीडीआर की तफ्तीश भी की जा रही है.

Coronavirus latest update July 8: दुनियाभर में अब तक 5.46 लाख लोगों की मौत, संक्रमितों की संख्या एक करोड़ 19 लाख के पार

First published: 8 July 2020, 9:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी