Home » उत्तर प्रदेश » Leopard kills teenager and injured a woman in Balrampur UP
 

चारपाई पर सो रहे थे दो सगे भाई, तभी आ गया खूंखार तेंदुआ और फिर…

कैच ब्यूरो | Updated on: 3 April 2019, 12:12 IST
(प्रतीकात्मक फोटो)

बाघ, चीता, तेंदुआ और शेर जैसे जंगली जानवरों पर लगातार खतरा बढ़ता जा रहा है. क्योंकि जंगलों में उन्हें खाने की कमी खलने लगी है. इसीलिए अब वह जंगल से निकलकर गांव की ओर आने लगे हैं. ऐसी एक मामला, यूपी के बलराम से आया है. जहां एक तेंदुआ ने एक किशोर को अपना शिकार बना दिया. मामला, हर्रैया थाना क्षेत्र के बिनौहनी कलां गांव का है. जहां रात के वक्त एक किशोर अपने भाई के साथ घर में चारपाई पर सो रहा था. तभी एक भूखे खूंखार तेंदुए ने उनपर हमला कर दिया.

तेंदुए के हमले में किशोर गंभीर रूप से घायल हो गया और उसकी मौत हो गई. तेंदुए के इस हमले के बाद पूरे इलाके में दहशत फैली हुई है. जानकारी के मुताबिक, बिनौहनी कलां की कमसुन्निशा अपने घर के बरामदे में बेटे सलमान और बेटी फरीदा के साथ चारपाई पर सो रही थी. वहीं उसका बड़े बेटे कौसर और अख्तर दूसरी चारपाई पर सो रहे थे. रात करीब 12 बजे अख्तर की चीख सुनकर कमसुन्निशा जाग गई.

कमसुन्निशा ने तुरंत टॉर्च जलाकर देखा और उसकी चीख निकल गई. क्योंकि तेंदुआ अख्तर की गर्दन को अपने जबड़े में जकड़े हुए था. कमसुन्निशा की चीख सुनकर तमाम ग्रामीण मौके पर पहुंच गए. लोगों की भीड़ को देखकर तेंदुआ जंगल में भाग गया. तेंदुआ जबतक अख्तर की गर्दन को छोड़ता उसकी मौत हो गई.

वहीं दूसरी घटना बिनौहनी गांव से ही करीब तीन किलोमीटर दूर रतनवा के मजरे अतरपरी में घटी. जहां रात करीब डेढ़ बजे तेंदुआ ने एक वृद्ध महिला पर हमला कर दिया. राजकुमारी नाम की वृद्ध महिला घर के बरामदे में चारपाई पर सो रही थी. तभी तेंदुआ ने उस पर वार कर दिया. इस दौरान तेंदुए ने वृद्धा के कंधे को जबड़े में जकड़कर लिया और खींच कर ले जाने लगा. महिला की चीख सुन तेंदुआ जंगल की ओर भाग गया. इस घटना में वृद्ध महिला की जान बच गई लेकिन वह गंभीर रूप से घायल हो गई.

बनारस हिंदू यूनिवर्सिटी में खुलेआम फायरिंग, निष्कासित छात्र की गोली मारकर हत्या

First published: 3 April 2019, 12:12 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी