Home » उत्तर प्रदेश » Live Encounter between police and criminals in Aligarh district 2 killed
 

योगी सरकार में हुआ देश का पहला लाइव एनकाउंटर, पुलिस ने वीडियो बनाने के लिए मीडिया को बुलाया

कैच ब्यूरो | Updated on: 21 September 2018, 10:12 IST
(प्रतीकात्मक तस्वी)

उत्तर प्रदेश पुलिस ने अलीगढ़ में मीडिया और कैमरे के सामने लाइव एनकाउंटर कर 2 अपराधियों को मार गिराया. योगी सरकार में पुलिस द्वारा कैमरे के सामने एनकाउंटर करने का ये पहला ऐसा मामला है. ये एनकाउंटर देश का पहला ऐसा एनकाउंटर है जहां पुलिस ने मीडिया और कैमरे के सामने ऐसा किया हो. जानकारी के अनुसार पुलिस ने एनकाउंटर के पहले पत्रकारों को बुलाया था.

टाइम्स नाउ हिंदी की खबर के मुताबिक अलीगढ़ के कुछ स्थानीय पत्रकारों को सुबह पौने सात बजे के करीब एक कॉल आया. कॉल पर पुलिस ने कहा कि अगर वे रियल एनकाउंटर देखना और शूट करना चाहते हैं तो वे जल्द से जल्द हरदुआगंज थाने के मछुआ गांव पहुंचें.

मीडिया के पहुंचने के कुछ देर के भीतर ही पुलिस ने 2 अपराधियों को मार गिराया. पत्रकारों के अनुसार वहां पहुंचने पर उन्होंने कुछ हथियारबंद और कुछ बुलेटप्रूफ जैकेट पहने पुलिसवालों को देखा. उनके पास कुछ अन्य लोग सिविल ड्रेस में भी थे. इस एनकाउंटर में मारे जाने वाले वालो 2 व्यक्तियों के नाम मुस्तकिम और नौशाद है.

एनकाउंटर करने के बाद पुलिस ने बताया कि उन दोनों ने पुलिस पर 34 राउंड फायरिंग की थी. मौके पर मौजूद द टाइम्स ऑफ इंडिया के फोटोजर्नलिस्ट ने बताया कि यह भारत का पहला ऐसा एनकाउंटर है जिसका गवाह बनने के लिए पत्रकारों को बुलाया गया था. बताया जाता है कि कैमरा, पत्रकारों और क्रू सदस्यों को एनकाउंटर साइट से 100 मीटर दूर रहने का आदेश दिया गया था. उनमें से किसी को भी बुलेटप्रूफ जैकेट नहीं दिया गया था.

रेलवे ने फिर दिया झटका: यात्रियों से इन सुविधाओं के लिए वसूला जाएगा डेढ़ गुना दाम

First published: 21 September 2018, 9:42 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी