Home » उत्तर प्रदेश » lucknow metro stopped in 2 hours due to technical fault on hi first public run in up.
 

पहले दिन ही लखनऊ मेट्रो ने दिया धोखा, 2 घंटे बाद इमरजेंसी गेट से निकले यात्री

कैच ब्यूरो | Updated on: 6 September 2017, 10:39 IST

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में बुधवार से आम लोगों के लिए मेट्रो की शुरुआत हो गई है. मेट्रो में सफर करने वालों के लिए उनका पहला अनुभव बुरा रहा. दरअसल चारबाग से ट्रांसपोर्ट नगर जाने वाली ट्रेन तकनीकी खराबी की वजह से दुर्गापुरी और मवैया के बीच फंस गई. इसके बाद लखनऊ मेट्रो सुबह तकरीबन दो घंटे तक खड़ी रही.

 

काफी देर तक लखनऊ मेट्रो में आई तकनीकी खराबी ठीक नहीं होने के बाद लोगों को इमरजेंसी गेट से निकाला गया. सभी पैसेंजर्स को 400 मीटर पैदल चलकर दुर्गापुरी स्टेशन वापस आना पडा़. जिस समय मेट्रो खराब हुई उस समय ट्रेन में 101 यात्री सवार थे.

5 सितंबर को हुआ था उद्धघाटन

मंगलवार को यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह और राज्यपाल राम नाइक की उपस्थिति में इसको हरी झंडी दिखाई गई. लखनऊ मेट्रो का उद्घाटन करते हुए गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि वह लखनऊ मेट्रो को पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी जी को समर्पित करते हैं. उन्होंने कहा कि अब लखनऊ शहर नवाबों के साथ-साथ मेट्रो शहर के रूप में भी जाना जाएगा. जिस भी शहर में मेट्रो चलती है, वहां विकास के द्वार खुल जाते हैं.

उद्धघाटन के दौरान सीएम योगी ने कहा कि समय पर इस योजना का पूरा होना काफी बड़ी बात है. मेट्रो की शुरुआत सीमित समय पर पूरा करने पर श्रीधरन जी और उनकी पूरी टीम को बधाई. योगी ने कहा कि हमारी योजना यूपी में कई शहरों में मेट्रो चलाने की है.

हम आपको बता दें कि, लखनऊ मेट्रो सुबह 6 बजे से लेकर रात 10 बजे तक चलेगी. चारबाग से ट्रांसपोर्ट नगर का किराया 10 रुपए से लेकर 60 रुपए तक होगा. ये कुल साढ़े 8 किलोमीटर की दूरी तय करेगी. इस दूरी में कुल 8 स्टेशन हैं. इस मेट्रो में सफर के दौरान टांसपेार्ट नगर, कृष्णा नगर, सिंगार नगर, आलमबाग, आलमबाग बस स्टैंड, मवैया, दुर्गापुरी और चारबाग स्टेशन आएंगे. 

First published: 6 September 2017, 10:38 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी