Home » उत्तर प्रदेश » Mayawati says bsp wont support samajwadi party in kairana and noorpur bypolls
 

महागठबंधन को झटका! मायावती अब उपचुनाव में नहीं करेंगी सपा को सपोर्ट

कैच ब्यूरो | Updated on: 27 March 2018, 15:14 IST

यूपी में हाल ही में सम्पन्न हुए लोकसभा उपचुनाव में सपा ने जबरदस्त जीत हासिल की थी. समाजवादी पार्टी ने बसपा से सपोर्ट से योगी आदित्यनाथ के गढ़ गोरखपुर और डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य की लोकसभा सीट से जीत दर्ज की थी. इसके बाद अखिलेश यादव बसपा सुप्रीमो मायावती से मिलने उनके आवास गए थे.

अब खबर आ रही है कि मायावती उपचुनाव में समाजवादी पार्टी को सपोर्ट नहीं करेंगी. मायावती ने सोमवार को पार्टी के विधायक, वरिष्ठ नेता तथा को-ऑर्डिनेटर के साथ बैठक में कहा कि प्रदेश में अब होने वाले उप चुनाव में बसपा किसी भी पार्टी का सहयोग नहीं करेगी.

 

गौरतलब है कि कैराना में लोकसभा, जबकि बिजनौर की नूरपुर विधानसभा में उपचुनाव होने को हैं. हालांकि बसपा सुप्रीमो मायावती के बीते दस दिनों के बयानों को देखें तो साफ पता चलता है कि बसपा के साथ उनका गठबंधन आगे भी चलता रहेगा और पार्टी 2019 के लोकसभा चुनाव भी गठबंधन के साथ ही मजबूती से लड़ेगी.

 

फिलहाल तो 2019 लोकसभा के चुनावों को लेकर सपा और बसपा में अभी सीटों को लेकर बंटवारा होना है. यह तय है कि मायावती और अखिलेश इसपर सहमत होते दिख रहे हैं कि राष्ट्रीय स्तर पर गठबंधन का चेहरा मायावती ही होंगी, जबकि सपा के मुखिया अखिलेश यादव अपने को उत्तर प्रदेश तक सीमित रखेंगे.

बसपा की यह घोषणा सपा के लिए बड़ा झटका माना जा रहा है. इसका सीधा सा मतलब है कि 2019 लोकसभा चुनावों से पहले अब बसपा और सपा के बीच किसी प्रकार का तालमेल नहीं होगा.

First published: 27 March 2018, 15:14 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी