Home » उत्तर प्रदेश » Meerut: 35 crore NCERT books were being illegally printed, police and STF raided
 

UP : अवैध तरीके से छापी जा रही 35 करोड़ की NCERT किताबें बरामद, इन राज्यों में होती थी सप्लाई

कैच ब्यूरो | Updated on: 22 August 2020, 11:06 IST

उत्तर प्रदेश के मेरठ जिले में एक गोदाम पर छापे के दौरान लगभग 35 करोड़ की NCERT की किताबें और छह प्रिंटिंग मशीनें जब्त की गई हैं. मेरठ पुलिस का कहना है कि एसटीएफ और यूपी पुलिस की एक टीम ने गोदाम में छापा मारा और वहां से एक दर्जन लोगों को हिरासत में लिया है. पुलिस ने कहा कि एनसीईआरटी द्वारा प्रकाशित पुस्तकों की पायरेटेड प्रतियां उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड और दिल्ली के स्थानों को आपूर्ति की जा रही थीं. वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अजय साहनी के अनुसार गोदामों में अवैध रूप से किताबें छापी जा रही थीं जो एक सचिन गुप्ता की हैं.

साहनी ने कहा कि यहां के परतापुर इलाके में गगोल रोड पर स्थित गोदाम को सील कर दिया गया है. पुलिस का कहना है की अवैध तरीके से राष्ट्रीय शैक्षिक अनुसंधान और प्रशिक्षण परिषद (एनसीईआरटी) की किताबें छापकर आसपास के राज्यों में सप्लाई की जाती थी. पुलिस ने एक सूचना के आधार पर एसटीएफ के साथ मिलकर यहां छापा मारा. कहा गया है कि ये किताबें जब आर्मी स्कूल तक पहुंची तो गुपचुप तरीके से इसकी जांच आर्मी ने अपने स्तर से कराई. जांच के दौरान पता चला कि ये किताबें मेरठ के परतापुर इलाके में छापी जा रही हैं. पुलिस ने जब यहां छापेमारी की, तब भी यहां काम चल रहा था.


एनसीईआरटी के प्रकाशन का अधिकार दिल्ली के कुछ चुनिंदा प्रकाशकों को ही है. पुलिस को खबर मिली थी कि कुछ प्रकाशक किताबों का फर्जी तरीके से प्रकाशन कर रहे हैं. जब यहां छापा मारा गया तब एनसीईआरटी की किताबों की बाइंडिंग चल रही थी. रिपोर्ट के अनुसार पुलिस को देख कुछ लोग यहां से भाग खड़े हुए.

बरामद की गई अधिकांश किताबें 9 से 12वीं तक की फिजिक्स, केमेस्ट्री और मैंथ की हैं. पुलिस के अनुसार मामले में आईपीसी की धाराओं के साथ ही कॉपी राइट और पायरेसी एक्ट के तहत कार्रवाई होगी. एसटीएफ को जानकारी में बताया गया है कि ये किताबें सिर्फ शहर में नहीं बल्कि आसपास के जनपदों और अन्य राज्यों  उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड और दिल्ली में भी जाती हैं. बागपत, मुजफ्फरनगर, बिजनौर, हापुड़ के वाहन अक्सर गोदाम पर खड़े रहते हैं.

 बड़ी खबर: दिल्ली के धौला कुंआ में हुआ एनकाउंटर, पकड़ा गया ISIS का आतंकी

 
First published: 22 August 2020, 11:00 IST
 
अगली कहानी