Home » उत्तर प्रदेश » Pregnant women refuses Ambulance service in Saharanpur
 

UP: कौशांबी के बाद सहारनपुर में गर्भवती महिला को नहीं मिली एंबुलेंस

कैच ब्यूरो | Updated on: 14 June 2017, 13:48 IST

अभी कौशांबी में सात माह की बच्ची का शव साइकिल पर रखकर 10 किलोमीटर तक चलने का मामला ठंडा भी नहीं हुआ था कि अब पश्चिमी उत्तर प्रदेश के सहारनपुर में ऐसा ही मामला सामने आया है. यहां सामुदायिक स्वास्थ केंद्र पर एक गर्भवती महिला को एंबुलेंस की सेवा देने से मना कर दिया गया. महिला के परिजनों ने इसके बाद व्हीकल का इंतज़ाम ख़ुद किया. इन घटनाओं से पता चलता है कि यूपी में एंबुलेंस सेवा चरमराती जा रही है.

गर्भवती महिला से अस्पताल प्रशासन ने कहा कि केंद्र पर एंबुलेंस बेशक है, लेकिन उसमें ईंधन नहीं है. इसलिए उसका इस्तेमाल नहीं किया जा सकता. इसके बाद परिवार ने ख़ुद ही अपनी व्यवस्था की.

ठीक एक दिन पहले ऐसा ही मामला कौशांबी ज़िले से सामने आया. सात महीने की पूनम की मौत हो जाने के बाद उसका शव ले जाने के लिए एंबुलेंस सेवा नहीं दी गई. इसके बाद बच्ची के मामा उसका शव कंधे पर रखकर 10 किलोमीटर तक साइकिल चलाकर घर पहुंचे.

First published: 14 June 2017, 13:48 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी