Home » उत्तर प्रदेश » Pune- Gorakhpur Jansadharan Special train without any update on NTES reached Kanpur
 

पुणे-गोरखपुर जनसाधारण स्पेशल ट्रेन अचानक हो गई गायब, जानें वजह

कैच ब्यूरो | Updated on: 27 April 2018, 10:37 IST

 

हर रविवार को पुणे से गोरखपुर के लिए चलने वाली पुणे-कानपुर जनसाधारण स्पेशल ट्रेन-01453 गुरुवार को पटरीयों से अचानक गायब हो गई. दरअसल, यह घटना कानपुर से लखनऊ के बीच घटी. हुआ कुछ यूं कि जब पुणे से गोरखपुर के लिए ट्रेन चली, तो बीच (कानपुर से लखनऊ) इस स्पेशल ट्रेन की लोकेशन अचानक रेलवे की नैशनल ट्रेन इन्कवायरी सिस्टम( NTES) पर दिखना बंद हो गई. जिसकी वजह से रेलवे के अधिकारियों को ट्रेन की एक्जेक्ट लोकेशन का पता नहीं चल पा रही थी. ट्रेन के बारे में पता न चलने से रेलवे में भी हड़कंप मच गया. वहीं यात्री भी परेशान रहे.
 
दरअसल, पुणे-गोरखपुर जनसाधारण स्पेशल ट्रेन-01453 हर रविवार को पुणे से गोरखपुर के लिए चलाई जाती है. लेकिन सोमवार को यह ट्रैन पुणे से 26 घंटे देरी से चली. ट्रेन अहमदनगर, मनमाड, भुसावल, इटारसी, भोपाल, झांसी होते हुए अगले दिन 24 अप्रैल को सुबह 7.38 कानपुर पहुंची. एक दिन तक तो रेलवे की अधिकारिक वेबसाइट ने ट्रेन कितने बजे कहां से गुजरी इसकी जानकारी यात्रियों को मिल रही थी. लेकिन उसके बाद लोकेशन मिलना बंद हो गया.

जब मामले की छानबीन हुई तो सामने आया कि, पुणे-गोरखपुर जनसाधारण स्पेशल ट्रेन NTES पर 24 अप्रैल की सुबह कानपुर के गुड्स मार्शल में खड़ी थी. उसके बाद से इस ट्रेन का कुछ पता नहीं चला. इस तरह तीन दिन गुजर जाने के बाद भी ये ट्रेन लखनऊ नहीं पहुंची. कंट्रोलरूम से लेकर रेलवे के अधिकारियों तक को जानकारी नहीं थी कि ट्रेन कहां गई? 

ये भी पढ़ें-चीन पहुंचे PM मोदी, इन अहम मुद्दों पर दोनों देशों के बीच होगी चर्चा!

NTES पर चेक करने पर 24 अप्रैल से अब तक ये ट्रेन कानपुर गुड्स मार्शल में दिख रही है. साथ ही वेबसाइट पर यह भी बताया जा रहा है कि ट्रेन चल रही है लेकिन वहां से आगे नहीं बढ़ रही है. फिलहाल इस मामले में रेलवे प्रशासन भी कुछ कहने से बच रहा है. वहीँ सूत्रों का दावा है कि यह पूरा मामला NTES में जानबूझ के गड़बड़ी करने की है. कहा जा रहा है कि यह ट्रेन सोर्स स्टेशन से चलाई ही नहीं गई. अचानक कैंसल की गई यह ट्रेन एनटीईएस पर दौड़ती रही.

First published: 27 April 2018, 10:35 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी