Home » उत्तर प्रदेश » sanskrit being taught darul uloom husainia-madrasa in gorakhpur uttar pradesh
 

योगी सरकार में इस मदरसे में पढ़ाई जा रही है संस्कृत, पढ़ाने वाला भी मुस्लिम

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 April 2018, 13:02 IST
(ANI)

योगी सरकार ने मदरसों में आधुनिक शिक्षा दिए जाने की बात कही थी. वहीं इस बात को संज्ञान में लेते हुए सीएम योगी आदित्यनाथ के गढ़ गोरखपुर में एक मदरसा ऐसा है जहां संस्कृत की पढ़ाई होती है. यहां पर विज्ञान, गणित, अंग्रेजी, अरबी के अलावा हिंदी और संस्कृत भी पढ़ाई जा रही है. यहां मदरसे में मुस्लिम शिक्षक ही बच्चों को संस्कृत पढ़ाते हैं.

बता दें कि यह पूरा मामला गोरखपुर में दारुल उलूम हुसैनिया मदरसे का है, इस समय मदरसे के चर्चे दूर-दूर तक हैं. यह मदरसा उत्तर प्रदेश मदरसा शिक्षा बोर्ड के अंतर्गत आता है. यहां पर संस्कृत पढ़ाने के लिए कोई हिंदू शिक्षक नहीं रखा गया है बल्कि मुस्लिम शिक्षक ही बच्चों को संस्कृत पढ़ाते हैं.

वहीं इस संस्कृत की पढाई को लेकर बच्चे भी खुश हैं. वहीं पढने वाली लड़कियां कहती हैं कि "हमें संस्कृत पढ़ना अच्छा लगता है. अध्यापक हमें अच्छी तरह से इस बारे में बताते हैं. हमारे अभिभावक भी संस्कृत और अन्य विषयों को पढ़ाने में हमारी मदद करते हैं." पढ़ने वाले छात्रों का कहना है कि संस्कृत एक भाषा है, इसका किसी हिंदू या मुस्लिम से संबंध नहीं.

First published: 10 April 2018, 12:46 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी