Home » उत्तर प्रदेश » Six farmers died and one injured in collision between truck and pickup in Etawah UP
 

उत्तर प्रदेश के इटावा में ट्रक और पिकअप की जबरदस्त भिडंत, 6 लोगों की मौत

कैच ब्यूरो | Updated on: 20 May 2020, 10:10 IST

Collision between truck and pickup in Etawah: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के इटावा (Etawah) में मंगलवार देर रात पिकअप और एक ट्रक टक्कर में छह किसानों (Farmers) की मौत हो गई. जबकि एक शख्स घायल (Injured) हो गया है. हादसे की सूचना मिलने के बाद पुलिस (Police) मौके पर पहुंच गई और मृतकों के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम (Postmortom) के लिए भेज दिया. वहीं घायल को इलाज के लिए सैफई मिनी पीजीआई (Saifai Mini PGI) में भर्ती करवाया गया है. एसपी सिटी (SP City) आर सिंह के मुताबिक, यह हादसा फ्रेंड्स कॉलोनी क्षेत्र के अंतर्गत नेशनल हाइवे-2 पर हुआ.

जहां, पिकअप में सवार होकर कुछ किसान सब्जी बेचने के लिए बाजार जा रहे थे. तभी एक ट्रक की पिकअप से टक्कर हो गई. टक्कर इतनी जबरदस्त थी कि छह किसानों की मौके पर ही मौत हो गई और एक शख्स घायल हो गया. घायल शख्स को सैफई मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया है.


योगी सरकार का फैसला- पैदल, ट्रक या बाइक से आ रहे मजदूरों को राज्य में घुसने नहीं दिया जाएगा

UP: प्रियंका गांधी ने 1000 बस चलाने की मांगी थी अनुमति, योगी सरकार ने कहा- भेजिए बसों की लिस्ट

इटावा में हुए हादसे की जानकारी मिलते ही उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने किसानों के परिवारों के प्रति शोक व्यक्त किया और हादसे में मारे गए लोगों के परिजनों को 2-2 लाख रुपये और गंभीर रूप से घायल व्यक्ति को 50 हजार रुपये की आर्थिक मदद देने के निर्देश जारी किए हैं.

CM योगी ने सभी राज्य सरकारों से मांगी श्रमिकों की सूची, 12 हजार बसों से भेजा जाएगा उनके घर

लॉकडाउन 4.0 : योगी सरकार ने दिल्ली से नोएडा-गाजियाबाद में वाहनों की एंट्री को दी अनुमति

बता दें कि इससे पहले बीते शनिवार देर रात उत्तर प्रदेश के औरैया में एक और हादसा हुआ था. जहां डीसीएम और ट्रॉला की जोरदार टक्कर में 26 प्रवासी मजदूरों की मौत हो गई थी. साथ ही 34 लोग घायल हुए थे. इस हादसे के शिकार हुए ज्यादातर लोग बिहार, झारखंड और पश्चिम बंगाल के रहने वाले थे. सभी मजदूर राजस्थान के भरतपुर से चूना से लदे ट्रॉला में बैठकर अपने घर जा रहे थे. लेकिन रास्ते में हादसे का शिकार हो गए. हादसे के बाद राष्ट्रपति रामनाथ कोविद और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दुख जताया था. वहीं, यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने इस हादसे के बाद कार्रवाई करते हुए दो थानाध्यक्षों को निलंबित कर दिया था.

यूपी, बिहार, महाराष्ट्र में एक के बाद एक तीन सड़क हादसे, 16 प्रवासी मजदूरों की मौत

First published: 20 May 2020, 10:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी