Home » उत्तर प्रदेश » Two saints murdered in Bulandshahr UP after Palghar lynching
 

पालघर के बाद यूपी के बुलंदशहर में दो साधुओं की हत्या, मंदिर परिसर में दिया वारदात को अंजाम

कैच ब्यूरो | Updated on: 28 April 2020, 10:11 IST

Saints Murdered in Bulandshahr: महाराष्ट्र (Maharashtra) के पालघर (Palghar) में संतों (Saints) की हत्या (Murder) का मामला अभी शांत भी नहीं हुआ था कि अब उत्तर प्रदेश (UP) के बुलंदशहर (Bulandshahr) में दो संतों की हत्या का मामला सामने आया है. खबरों के मुताबिक, दोनों संतों की हत्या सोमवार रात धारदार हथियारों से काटकर कर दी गई. संतों की हत्या से इलाके में हड़कंप मच गया है और लोग काफी रोष में हैं. मौके पर भारी संख्या में पुलिस बल तैनात है और शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है.

जानकारी के मुताबिक, बुलंदशहर के अनूपशहर कोतवाली के गांव पगोना में स्थित शिव मंदिर परिसर में करीब दस साल से साधु जगनदास (55) और सेवादास (35) रहते थे. दोनों साधु शिव मंदिर में ही रहकर पूजा-अर्चना में करते थे. इसी मंदिर परिसर में दोनों साधुओं की सोमवार देर रात हत्या कर दी गई. मंगलवार सुबह जब ग्रामीण मंदिर में पहुंचे तो उन्हें साधुओं के खून से लथपथ शव पड़े मिले. उसके बाद ग्रामीणों की भीड़ लग गई.


ग्रामीणों की सूचना पर सीओ अनूपशहर अतुल चौबे, कोतवाल मिथिलेश उपाध्याय पुलिस बल के साथ घटनास्थल पर पहुंच गए. फिलहाल घटना के पीछे के कारण का पता नहीं चला है. सीओ अतुल चौबे का कहना है कि मामले की जांच की जा रही है. जो भी दोषी होगा उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी.

पत्रकार अर्णब गोस्वामी को सुप्रीम कोर्ट से राहत, कहा- तीन हफ्ते तक कोई कार्रवाई न करें

इससे पहले 17 अप्रैल को महाराष्ट्र के पालघर में दो साधु और एक ड्राइवर की भीड़ ने पीट-पीट कर हत्या कर दी थी. करीब 200 लोगों की भीड़ ने हत्या की इस घटना को उस वक्त अंजाम दिया था जब लोगों ने इको वैन में बैठे दोनों साधु और उनके ड्राइवर को बच्चा चोर समझ लिया. उसके बाद तीनों को बेरहमी से पीटा गया जिससे उनकी मौके पर ही मौत हो गई.

पालघर मॉब लिंचिंग मामले पर फरहान अख्तर और अनुपम खेर का फूटा गुस्सा, कहा- ये क्या हो रहा है?

दिनदहाड़े डबल मर्डर से सहमा सहारनपुर, पत्रकार और उसके भाई की गोली मारकर हत्या

First published: 28 April 2020, 10:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी