Home » उत्तर प्रदेश » Unnao gang rape case: Forensic report of victims father assault case CBI witness Yunus rules out foul play
 

उन्नाव रेप केस: मुख्य गवाह युनूस के शव की फॉरेंसिक रिपोर्ट में बड़ा खुलासा, कैसे हुई मौत

कैच ब्यूरो | Updated on: 2 September 2018, 16:12 IST
(File Photo )

उन्नाव गैंगरेप मामले में एक बड़ा खुलासा हुआ है. मामले की जांच कर रही एजेंसी सीबीआई के अहम गवाह युनूस की मौत के जहर देने से नहीं बल्कि बीमारी के चलते हुई है. युनूस आरोपी विधायक कुलदीप सेंगर से जुड़े हुए पीड़िता के पिता की मौत के मामले में सीबीआई का खास गवाह था.

मीडिया खबरों के अनुसार, पुलिस को यूनूस के शव की फॉरेंसिक रिपोर्ट (एफएसएल रिपोर्ट) मिल गई है. फोरेंसिक जांच के दौरान किसी प्रकार के जहर की पुष्टि नहीं हुई है. पुलिस का कहना है कि अब सबकुछ साफ हो गया है कि युनूस की मौत किसी जहर से नहीं बल्कि बीमारी के चलते हुई थी इसमें किसी को संदेह नहीं होना चाहिए.

बता दें कि पुलिस ने युनूस के शव को उसकी कब्र से निकालकर फॉरेंसिक जांच के लिए भेजा था. उसका विसरा सुरक्षित रख लिया गया था. डॉक्टरों ने यूनुस के डीएनए सैम्पल के रूप में कॉलर बोन के टुकड़ो, सीने की हड्डी और सिर के बालों को सुरक्षित रखा था. युनूस का लीवर अत्यधिक सिकुड़ा होने की वजह से डॉक्टर पहले भी मान रहे थे कि उसकी मौत बीमारी के चलते हुई है. अब रिपोर्ट आने के बाद ये साफ भी हो गया है.

गौरतलब है कि उन्नाव रेप केस में अहम गवाह युनूस की मौत के बाद परिजनों ने उसके शव को बिना पुलिस को सूचना दिए ही सुपुर्द ए खाक कर दिया. जिसको लेकर कई सवाल खड़े हो गए थे. युनूस उन्नाव गैंगरेप में पीड़िता के पिता की पिटाई से हुई मौत का अहम गवाह था. आरोप है कि रेप पीड़िता के पिता की भाजपा विधायक के भाई तथा अन्य लोगों द्वारा बेरहमी से पिटाई किए जाने से मौत हुई है. इस केस का मुख्य आरोपी बीजेपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर फिलहाल जेल में बंद है. सीबीआई इस मामले की जांच कर रही है.

ये भी पढें-  उन्नाव गैंगरेप: विधायक सेंगर की सहयोगी महिला शशि सिंह को 4 दिन की पुलिस कस्टडी

First published: 2 September 2018, 16:09 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी