Home » उत्तर प्रदेश » Unnao Gangrape Case News Updates: BJP MLA Kuldeep Singh Sengar Arrested by CBI from his home in Lucknow
 

उन्नाव गैंगरेप: BJP विधायक कुलदीप सेंगर को CBI ने किया गिरफ्तार

कैच ब्यूरो | Updated on: 13 April 2018, 10:35 IST

उन्नाव गैंग रेप के आरोपी भाजपा विधायक कुलदीप सेंगर को सीबीआई टीम ने आज सुबह लखनऊ से गिरफ्तार कर लिया. गिरफ्तारी के बाद भी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर मीडिया के सामने अपनी हेकड़ी दिखाने से बाज नहीं आया. मीडिया के सामने उनसे कहा कि वो खुद सीबीआई के अधिकारियों से मिलने आया है.

विधायक को फिलहाल सीबीआई के लखनऊ मुख्यालय में रखा गया है. इससे पहले इलाहाबाद हाई कोर्ट ने राज्य सरकार से सेंगर की गिरफ्तारी के लिए सवाल पूछा था. जिसके जवाब में राज्य सरकार का कहना था कि आरोपी विधायक के खिलाफ सबूत ही नहीं हैं. राज्य सरकार ने आगे कहा कि जैसे ही सबूत मिलता है आरोपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर की गिरफ्तार की जाएगी.

गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश के उन्नाव गैंगरेप मामले पर दायर की गई याचिका को सुप्रीम कोर्ट में स्वीकार किये जाने के बाद इलाहाबाद हाईकोर्ट ने इस मामले पर स्वत: संज्ञान लिया. इलाहाबाद हाईकोर्ट ने उन्नाव गैंगरेप मामले पर स्वत: संज्ञान लेते हुए 12 अप्रैल की सुनवाई की तारीख निर्धारित की थी. कोर्ट ने इस मामले में एक एमिकस क्यूरी भी नियुक्त किया है.

ये भी पढ़ें- उन्नाव गैंगरेप केस: हाईकोर्ट ने पूछा- क्यों नहीं हुई MLA की गिरफ्तारी

आज इलाहबाद हाईकोर्ट करेगी फैसला

पीड़िता की शिकायत पर इलाहबाद हाईकोर्ट ने मामले का स्वत: संज्ञान लिया था. गुरुवार को इस पूरे मामले पर सुनवाई हुई. इस दौरान कोर्ट ने यूपी सरकार से पूछा कि आप एक घंटे में बताएं कि विधायक को गिरफ्तार करेंगे या नहीं? इस यूपी सरकार ने कहा कि हमारे पास विधायक के खिलाफ सबूत नहीं हैं. पूरी सुनवाई के बाद कोर्ट ने शुक्रवार यानी आज दोपहर दो बजे फैसला सुनाने के लिए कहा.

विधायक के खिलाफ आईपीसी की धारा 363, 366, 376 ,506 और पॉक्सो एक्ट के तहत मुकदमा दायर किया गया है. गुरुवार को यूपी के डीजीपी ने कहा था कि मामला सीबीआई को ट्रांसफर कर दिया गया है इसलिए गिरफ्तारी पर फैसला सीबीआई ही लेगी.

 

क्या है पूरा मामला?
मामला उत्तर प्रदेश के उन्नाव जिले का है. यहां एक नाबालिग लड़की ने बांगरमऊ विधानसभा सीट से बीजेपी विधायक कुलदीप सेंगर पर बलात्कार का आरोप लगाया है. घटना पिछले साल जून की है. न्याय की मांग को लेकर आरोप लगाने वाली लड़की ने सीएम योगी के घर के बाहर आत्मदाह की कोशिश की थी. इसी महीने की तीन तारीख को पीड़िता के पिता की जेल में संदिग्ध परिस्थियों में मौत हो गई थी. पीड़िता ने विधायक कुलदीर सेंगर पर जेल में हत्या कराने का आरोप लगाया है.

 

First published: 13 April 2018, 7:30 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी