Home » उत्तर प्रदेश » Unnao Gangrape Case News Updates: UP DGP OP Singh addresses BJP MLA Kuldeep Singh Senger as honourable later clarifies
 

DGP ने गैंगरेप आरोपी BJP MLA को बोला 'माननीय', पत्रकार के ऑब्जेक्शन के बाद दी सफाई

कैच ब्यूरो | Updated on: 12 April 2018, 11:59 IST

उन्नाव गैंगरेप केस के आरोपी BJP विधायक कुलदीप सेंंगर के खिलाफ एफआईआर दर्ज हो गई है. पुलिस एसओ राजेश सिंह ने इस बात की जानकारी दी. इस मामले पर यूपी के डीजीपी ओपी सिंह और मुख्य सचिव अरविंद कुमार ने प्रेस कांफ्रेंस की. डीजीपी ने कहा कि हम या कोई भी बीजेपी विधायक को बचाने की कोशिश नहीं कर रहा है.

इस बीच डीजीपी ओपी सिंह प्रेस कांफ्रेंस में रेप के आरोपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर को माननीय कह गए. डीजीपी द्वारा बीजेपी विधायक को माननीय कहने के बाद जब एक पत्रकार ने उनका ध्यान इस ओर दिलाया तो उन्होंने इस बात कर सफाई दे डाली.

डीजीपी ने कहा कि एक विधायक को इज्जत देने में कोई बुराई नहीं है. उन्होंने सफाई देते हुए कहा कि वह सिर्फ आरोपी हैं अभी उन पर दोष साबित नहीं हुआ है. उन्होंने कहा कि अब यह केस सीबीआई के पास है और सीबीआई को ही केस के आरोपी पर केस दर्ज करने और गिरफ्तार करने का अधिकार है. उन्होंंने कहा कि हम दोनों तरफ की बात सुनना चाहते थे.

बता दें कि इस मामले की जांच के लिए यूपी सरकार ने अब सीबीआई जांच के आदेश दे दिए हैं. मामले की जांच के लिए गठित स्पेशल इन्वेस्टिगेशन टीम की रिपोर्ट के आधार पर प्रदेश सरकार द्वारा विधायक व अन्य के खिलाफ गैंगरेप का मामला दर्ज करने और पूरे मामले की सीबीआई जांच कराने का आदेश दिया गया है.

पढ़ें- उन्नाव गैंगरेप केस: BJP विधायक कुलदीप सेंगर के खिलाफ दर्ज हुई FIR, सीबीआई जांच के आदेश

इस पूरे मामले की जांच उत्तर-प्रदेश सरकार द्वारा गठित एसआईटी कर रही है. इसके अलावा उन्नाव ज़िला अस्पताल के CMS और इमरजेंसी मेडिकल ऑफिसर को भी सस्पेंड कर दिया गया है. वहीं ठीक से इलाज नहीं करने के आरोप में तीन डॉक्टरों के ख़िलाफ़ अनुशासनात्मक कार्रवाई शुरू करने के आदेश दिए गए हैं. सफीपुर के सीओ को भी सस्पेंड करने का आदेश दिया गया है.

First published: 12 April 2018, 11:50 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी