Home » उत्तर प्रदेश » Unnao Rape Case: UP government said There is not enough evidence against BJP MLA kuldeep singh Senger in Allahabad High Court
 

उन्नाव गैंगरेप: HC में भाजपा विधायक की गिरफ्तारी पर योगी सरकार बोली- नहीं है पर्याप्त सबूत

कैच ब्यूरो | Updated on: 12 April 2018, 18:43 IST

उन्नाव दुष्कर्म मामले में गुरुवार को इलाबाबाद हाईकोर्ट में सुनवाई की गई. योगी सरकार ने अपना जवाब पेश करते हुए आरोपी विधायक को क्लीन चिट दे दी है. वहीं कोर्ट ने दोनों पक्षों की दलीलें सुनने के बाद फैसला सुरक्षित रख लिया है. कोर्ट शुक्रवार को इस मामले में अपना फैसला सुनाएगा.

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, इलाहाबाद हाईकोर्ट ने उन्नाव दुष्कर्म मामले में गुरुवार को सुनवाई की. योगी सरकार ने कोर्ट में अपना जवाब दाखिल कर कहा है कि फिलहाल विधायक कुलदीप सेंगर के खिलाफ पर्याप्त सबूत नहीं है. कानून के अनुसार कुलदीप सेंगर के खिलाफ कार्रवाई की गई है.

सबूत मिलने के बाद कुलदीप सिंह सेंगर के खिलाफ आगे की कार्रवाई की जाएगी. खबर है कि कोर्ट ने योगी सरकार के इस जवाब को लेकर नाराजगी जाहिर की है.

हाई कोर्ट के चीफ जस्टिस डीबी भोंसले ने सख्त टिप्पणी करते हुए कहा कि राज्य की कानून व्यवस्था पूरी तरह से ध्वस्त हो चुकी है. सामूहिक दुष्कर्म पीडि़ता छह महीने तक इंसाफ की गुहार लगाती रही, लेकिन कोई सुनवाई नहीं हुई। उसके पिता की मौत के बाद उन्नाव पुलिस की नींद टूटी. कोर्ट ने इस मामले में शुक्रवार को 2 बजे फैसला सुनाने का आदेश जारी किया है. 

गौरतलब है कि इलाहाबाद हाईकोर्ट ने बुधवार को उन्नाव दुष्कर्म के आरोपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर की गिरफ्तारी को लेकर योगी सरकार को फटकार लगाई थी. कोर्ट ने योगी सरकार से सख्त लहजे में पूछा था कि आरोपी विधायक की गिरफ्तारी होगी या नहीं.

कोर्ट ने एक घंटे के अंदर सरकार को जवाब देने के आदेश दिया था. इसके साथ ही कोर्ट ने राज्य सरकार से इस मामले में एक रिपोर्ट पेश करने का आदेश दिया था. वहीं दूसरी तरफ योगी सरकार ने इस मामले में सीबीआई जांच की सिफारिश कर दी है.

CM योगी के आदेश के बाद हरकत में आई पुलिस

सीएम योगी के आदेश के बाद मामले में जांच तेज हो गई है. एसआईटी टीम ने बुधवार को पीड़िता के गांव जाकर जांच की. इसके अलावा सीएम योगी के आदेश पर पुलिस ने आरोपी विधायक के खिलाफ  धारा 363, 366, 376 ,506 और पॉक्सो ऐक्ट के तहत केस दर्ज किया है.

First published: 12 April 2018, 18:43 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी