Home » उत्तर प्रदेश » UP Board Result 2018: Candidates failed before the results came of Up Board
 

UP Board Result 2018: रिजल्ट आने के पहले ही फेल हो गए यूपी बोर्ड के परीक्षार्थी

कैच ब्यूरो | Updated on: 18 March 2018, 15:17 IST
यूपी बोर्ड की परीक्षाएं ख़त्म हो चुकी हैं और अब छात्रों को रिजल्ट का इंतजार है. परीक्षाएं समाप्त होने के बाद अब कापियां जांचने की बारी आ गयी हैं, लेकिन परीक्षा के पहले ही 4,69,279 परीक्षार्थी फेल हो गए हैं. यानी सभी रिजल्ट आने से पहले ही फेल हो चुके हैं.

हाई स्कूल में है आप्शन –बोर्ड के नियमों के अनुसार हाईस्कूल + की परीक्षा में अनुपस्थित छात्रों के पास उत्तीर्ण होने के दूसरे विकल्प हैं. इनमें ऐसे छात्र जो पांच विषयों में पास हैं उन्हें एक विषय में इम्प्रूवमेंट देने का विकल्प मौजूद है. जबकि दो विषय में फेल छात्रों को एक विषय में कम्पार्टमेंट देने का मौका मिलता है. यदि इसके बाद वह पांच विषयों में पास हो जाता है तो उसे पास माना जाएगा.

अनुपस्तिथि के कारण हुए फेल

फेल होने वाले सभी परीक्षार्थी इंटरमीडिएट के हैं. ये किसी न किसी विषय की परीक्षा में शामिल नहीं हुए थे. जैसा की बोर्ड का नियम होता हैं कि अगर बोर्ड एग्जाम में कोई भी परीक्षा छूट गयी तो अगले साल एग्जाम देता पड़ता हैं. इसलिए बोर्ड के नियमों के अनुसार अब इनके पास अगले साल दोबारा परीक्षा देने के अलावा कोई रास्ता नहीं है. इनमें सबसे अधिक 25,713 परीक्षार्थी आजमगढ़ से हैं.

स्टूडेंट्स

66,37,018 परीक्षार्थी रजिस्टर्ड थे. इनमें हाई स्कूल में 36,55,691 और इंटरमीडिएट परीक्षा में शामिल होने वाले परीक्षार्थियों की संख्या 29,81,327 थी. हालांकि परीक्षा से ही पहले कागजों की जांच में अनियमितता मिलने पर करीब 88 हजार परीक्षार्थियों के फॉर्म रद्द कर दिए गए थे, जबकि 11,29,786 परीक्षार्थियों ने बीच में परीक्षा छोड़ दी थी. इनमें हाई स्कूल के 6,60,507 और इंटरमीडिएट के 4,69,279 परीक्षार्थी शामिल हैं.

इंटर के नियम हैं अलग- हाईस्कूल और इंटरमीडिएट परीक्षा के नियम अलग अलग हैं. इंटरमीडिएट में एक विषय में भी फेल होने पर छात्र को फेल माना जाता है. उसके पास इसी सत्र में पास होने के लिए कोई दूसरा विकल्प नहीं बचता. इसलिए इंटरमीडिएट के 469279 अनुपस्थित परीक्षार्थियों के पास अब पास होने का कोई विकल्प नहीं बचा है और वे रिजल्ट आने से पहले ही फेल हो गए है. इनमें सबसे अधिक 25713 छात्र आजमगढ़ से हैं. जबकि दूसरे स्थान पर 32971 छात्र अलीगढ़ और तीसरे स्थान पर 24118 छात्र गाजीपुर से हैं.

First published: 18 March 2018, 15:17 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी