Home » उत्तर प्रदेश » UP: BSP MLA Mukhtar Ansari to be shifted back to Agra Central Jail from Lucknow District Jail
 

बहनजी की पार्टी के विधायक 'भाई' को लखनऊ से आगरा जेल भेजने की तैयारी

कैच ब्यूरो | Updated on: 29 March 2017, 11:57 IST
(फाइल फोटो)

यूपी में बीजेपी सरकार की ताजपोशी के बाद बाहुबली बसपा विधायक मुख्तार अंसारी की मुश्किलें बढ़ सकती हैं. ख़बर है कि मुख्तार को लखनऊ ज़िला जेल से आगरा सेंट्रल जेल शिफ्ट करने की तैयारी हो रही है. यूपी में 19 मार्च को योगी आदित्यनाथ ने मुख्यमंत्री की शपथ लेते हुए सूबे की कमान संभाली है.

बीजेपी विधायक कृष्णानंद राय की हत्या के मामले में मुख्तार अंसारी पिछले 12 साल से जेल में बंद हैं. इस बार यूपी के विधानसभा चुनाव से ठीक पहले मुख्तार अंसारी की पार्टी कौमी एकता दल का बसपा में विलय हो गया था. जिसके बाद बसपा सुप्रीमो मायावती ने उन्हें मऊ सदर सीट से पार्टी का उम्मीदवार बनाया था.

मुख्तार-बृजेश सिंह की प्रतिद्वंद्विता

मुख्तार अंसारी तो चुनाव जीतकर लगातार पांचवीं बार विधायक बनने में कामयाब रहे, लेकिन उनके बेटे और भाई को शिकस्त का सामना करना पड़ा. उनके बेटे अब्बास अंसारी को बसपा ने घोसी से जबकि बड़े भाई सिबगतुल्लाह अंसारी को गाजीपुर के मोहम्मदाबाद से टिकट दिया था. सिबगतुल्लाह को दिवंगत कृष्णानंद राय की पत्नी अलका राय ने मात दी है.

पूर्वांचल इलाके में मुख्तार अंसारी की गिनती बाहुबली नेताओं में होती है. माफिया से राजनेता बने बृजेश सिंह और उनके बीच छत्तीस का आंकड़ा है. बृजेश सिंह ने पिछले साल विधान परिषद का चुनाव बतौर निर्दलीय उम्मीदवार जीता था. वहीं उनके भतीजे सुशील सिंह को बीजेपी ने इस बार वाराणसी से सटे चंदौली जिले की सैयदराजा सीट से उम्मीदवार बनाया था. सुशील भी चुनाव जीतकर विधायक बने हैं.

First published: 29 March 2017, 11:57 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी